Jammu Kashmir Tourism: पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए जम्मू-कश्मीर में शुरु होगी हेलीकॉप्टर सेवा

0

Jammu Kashmir Tourism: हमेशा से पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र रहा है जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir)। जम्मू एवं कश्मीर में पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए एक बड़ा कदम उठाया जा रहा है। केंद्र शासित प्रदेश के भीतर पर्यटन स्थलों को जोड़ने वाली प्रस्तावित हेलीकॉप्टर सेवा (helicopter service) शुरू करने की योजना बनाई जा रही है। हेलीकॉप्टर सेवा शुरु होने से यहां पर्यटन (Tourism) को काफी फायदा मिलने की उम्मीद है। इस योजना से क्षेत्र में एक बड़ा परिवर्तन आने वाला है। विभिन्न पर्यटक स्थलों के लिए बहुत जल्द ही हेलीकॉप्टर सेवाएं शुरू हो जाएगी।

ये भी पढ़ें- Pratapgarh Police : प्रतापगढ़ पुलिस ने शातिर बाइक चोर गैंग को पकड़ा, 6 बदमाश गिरफ्तार

Jammu Kashmir Tourism: एयर सफारी और हवाई सवारी शुरू करने की भी योजना

जम्मू एवं कश्मीर  (Jammu Kashmir) दोनों संभागों के पर्यटन स्थलों के लिए ये हेलीकॉप्टर सेवा (helicopter service) सैलानियों को यात्रा का एक दिलचस्प अनुभव कराने के इरादे से शुरू करने का फैसला लिया गया है। इससे हाई-एंड (high-end) पर्यटकों की इच्छा पूरी हो सकेगी और वह आसमान से कश्मीर की वादियों को निहार सकेंगे। केंद्र शासित प्रदेश सरकार ने डल झील और आसपास के पर्यटन के लिहाज से बेहतरीन क्षेत्रों पर आकर्षण को और बढ़ाने के लिए एक एयर सफारी और हवाई सवारी शुरू करने का भी फैसला किया है।

Jammu Kashmir Tourism: हेलीकॉप्टर सेवा से दर्शनीय स्थलों की यात्रा और अधिक दिलचस्प होगी

इन योजनाओं का खुलासा उपराज्यपाल के सलाहकार बशीर अहमद खान (Bashir Ahmed Khan) की अध्यक्षता में हुई एक बैठक के दौरान हुआ, जिसमें शुक्रवार को वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया। खान ने कहा कि यह योजना जम्मू-कश्मीर में पर्यटन को बढ़ावा देगी और इसके बाद कई दर्शनीय स्थलों की यात्रा अधिक दिलचस्प होगी। खान ने कहा कि केंद्र शासित प्रदेश सरकार महत्वपूर्ण स्थलों के बीच संपर्क विकसित करने के लिए हेलीकॉप्टर सेवाओं पर भी विचार कर रही है, ताकि अधिक से अधिक पर्यटकों को आकर्षित किया जा सके।

ये भी पढ़ें- Appointed Governor : 8 राज्यों में नए राज्यपाल नियुक्त, कैबिनेट मंत्री थावरचंद गहलोत बनाए गए कर्नाटक के राज्यपाल

Jammu Kashmir Tourism: यात्रा और पर्यटन का बदलेगा चेहरा

उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को जम्मू एवं कश्मीर दोनों क्षेत्रों में गंतव्यों की पहचान करने का निर्देश दिया है, जहां हेलीकॉप्टर सेवाएं शुरू की जा सकती है। उपस्थित अधिकारियों ने संभावित स्थानों पर चर्चा की। इस दौरान खान ने कहा कि यह अभ्यास जम्मू-कश्मीर में यात्रा और पर्यटन का चेहरा बदलने और दूर-दराज के स्थानों में नए स्थलों को खोलने के लिए है। उपराज्यपाल के सलाहकार बशीर अहमद खान ने अधिकारियों को याद दिलाया कि उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने प्रस्तावित हेलीकॉप्टर सेवाओं के लिए सबसे उपयुक्त पर्यटन स्थलों की मैपिंग पर स्पष्ट निर्देश दिए हैं।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.