Zomato: जोमैटो डिलीवरी बॉय गिरफ्तार, हितेशा द्वारा लगाए हुए आरोपों को किया इंकार

अब कहानी में दो पहलु सामने आए है। जोमैटो डिलीवरी बॉय का आरोप है की हितेशा ने उसे अपशब्द कहे और चप्पल से मारा।

0
Zomato: जोमैटो डिलीवरी बॉय (Delivery boy) जिस पर एक महिला हितेशा चंद्रानी ने आरोप लगाया था, उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। और आरोपी ने अपनी सफाई बयान की है। जोमैटो डिलीवरी बॉय(Delivery boy)का नाम कामराज बताया जा रहा है। जोमैटो डिलीवरी बॉय(Delivery boy)ने पीड़िता के द्वारा लगाए हुए आरोप से इंकार किया है। जोमैटो डिलीवरी बॉय ने यह मानने से इन्कार कर दिया है की उसने हितेशा चंद्रानी को मुक्का मारा है। कामराज ने बताया है की हितेशा चंद्रानी की अंगूठी (ring) ही उसके नाक पर लग गई थी, जिसके कारण हितेशा की नाक पर चोट आ गई।
Zomato delivery boy
जोमैटो डिलीवरी बॉय ने लगाए हुए आरोप से इंकार किया
क्या था आरोप:-

बेंगलुरु ने रहने वाली हितेशा चंद्रानी नाम की एक लड़की ने जोमैटो डिलीवरी बॉय पर यह आरोप लगाया था की सोशल मीडिया(social media) पर वीडियो जारी किया था जिसने उसने बताया की ऑर्डर (order) लेट होने के कारण , हितेशा ने ऑर्डर लेने से मना किया तो डिलीवरी बॉय ने हितेशा पर हमला किया और नाक पर मुक्का मार कर वहां से भाग गया। हितेशा को हॉस्पिटल (HOSPITAL) में भर्ती कराया गया और डॉक्टर ने बताया उनकी नाक पर फ्रैक्चर (Fracture) आया है।

ये भी पढ़ें- प्रयागराज: मौत से हार गई पीड़िता, हाईवे जाम कर आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग
क्या है डिलीवरी बॉय का कहना:-
 इस कहानी में अब दो पहलु सामने आए है । जोमैटो डिलीवरी बॉय (Delivery boy)का नाम कामराज है। कामराज का कहना है की ट्रैफिक और खराब सड़को के कारण वह खाना डिलीवरी करने ने लेट हो गया था जिसके लिए मैंने उनसे माफी भी मांगी। परंतु उनका स्वभाव बहुत असभ्य थी। और बहुत अशिष्ट व्यवहार से उन्होंने मुझसे पूछा की ‘इतना देर से क्यों आ रहे हो।‘ मैंने उनसे माफी मांगते हुए उत्तर दिया की रोड कंस्ट्रक्शन (road construction)के कारण सड़को पर जाम था। पर वह फिर भी कहती रही की ऑर्डर (order)45- 50 मिनट तक पहुंचना होता है।
मैंने हितेशा को खाना दिया। हितेशा ने कैश ऑन डिलीवरी (cash on delivery)का ऑप्शन (option) चुना था इसलिए मैं उनसे पैसे देने की उम्मीद कर रहा था। पर उन्होंने पैसे देने से इंकार कर दिया। उन्होंने बोला की में जोमैटो टीम से संपर्क कर रही हुं। मैंने उनसे निवेदन किया कि वे ऑर्डर का भुगतान करे। पर इतने में वह मुझ पर चिल्लाने लगी और मुझे गुलाम कहा । फिर जोमैटो टीम(zomato team) ने मुझे बताया की ग्राहक के निवेदन से हमने ऑर्डर कैंसल (cancel)कर दिया। मैंने उनसे खाना वापस करने को कहा पर उन्होंने नही किया। मैंने फैसला लिया की यहां से निकल जाना बेहतर होगा। मैं लिफ्ट की तरफ मुड़ा तो उन्होंने मुझे अपशब्द सुनाई और चप्पल फेंक कर मारी। और मुझे मरने लगी। मैंने खुद को बचाने के लिए अपने हाथों का इस्तेमाल किया। इसी बीच बचाव में उनकी खुद की अंगूठी से उनकी नाक पर चोट लग गई, जिसके बाद उनकी नाक से खून बहने लगा।  कामराज का कहना है अगर आप उनके चेहरे को देखेंगे को आपको दिख जायेगा की यह चोट मुक्के से नहीं आई है। और वीडियो में भी हितेशा अंगूठी पहेने हुए नजर आ रही है।

बुधवार शाम 6:30 बजे करीब, सिटी फेस एक पुलिस स्टेशन (police station) द्वारा कामराज को बुलाया गया। और उससे दो घंटे तक पूछताछ हुई । कामराज का कहना है की पुलिस ने मेरा किसी भी तरह से अपमान नहीं किया पर मुझे गिरफ्तारी रोकने के लिए और कानूनी खर्च के लिए 25,000 रुपए  खर्च करने होंगे।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को facebook Page पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: