UP: तीन करोड़ से अधिक कोरोना जांच करने वाला प्रदेश बना यूपी

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के नेतृत्‍व में कोरोना के आंकड़ों में तेजी से गिरावट दर्ज हुई है। इसका ही परिणाम है कि प्रदेश में अब कोरोना के आंकड़ों का ग्राफ तेजी से नीचे जा रहा है।

0

LUCKNOW : मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (CM Yogi Adityanath) के नेतृत्‍व में कोरोना (corona) के आंकड़ों में तेजी से गिरावट दर्ज हुई है। इसका ही परिणाम है कि प्रदेश में अब कोरोना के आंकड़ों का ग्राफ तेजी से नीचे जा रहा है। महामारी कोरोना से निपटने में मुख्यमंत्री की रणनीति ने देश के कई राज्यों को पीछे छोड़ दिया।

प्रदेश में अब तक 3,18,68,690 सैम्पल की जांच की जा चुकी है। रोजाना 1.50 लाख से अधिक कोरोना की जांच की जा रही हैं। प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से संक्रमण के 128 नए मामले आए हैं।

ये भी पढ़े- Corona Vaccination: भारत में एक दिन में लगी 11 लाख लोगों को वैक्सीन

कोविड से निपटने की मुख्यमंत्री की नीति का ही नतीजा है कि अब प्रदेश में कोरोना से पहले की तरह ही गतिविधियां सामान्‍य हो रहीं हैं। सभी जनपदों के मेडिकल कॉलेजों (Medical Colleges) में अब पहले की तरह सामान्‍य नागरिकों के लिए सुविधाएं भी सुलभ हो रहीं हैं।

प्रदेश में अब कोरोना के एक्टिव केस के आंकड़े महज 2017 रह गए हैं। अब तक 5,93,288 लोग संक्रमण मुक्‍त हो चके हैं। पिछले 24 घंटों में 139 मरीज कोरोना संक्रमण मुक्‍त होकर डिस्‍चार्ज किए जा चुके हैं। प्रदेश का रिकवरी रेट 98 प्रतिशत से अधिक दर्ज किया गया है जो अन्‍य प्रदेशों से कहीं अधिक है।

टीकाकरण अभियान के तहत प्रदेश में 60 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के वैक्सीनेशन का कार्य चल रहा है। टीकाकरण अभियान के तहत स्वास्थ्य कर्मियों, फ्रंट लाइन वर्कर्स और 60 वर्ष से अधिक आयु वाले लोगों को मिलाकर 19 लाख लोगों को वैक्सीन की डोज लग चुकी है।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: