काशी में मुस्लिम समुदाय ने शिवभक्तों पर बरसाए फूल, पेश की गंगा-जमुनी तहजीब की मिसाल

धर्म और आध्यात्म की नगरी काशी में हर वर्ष की भांति इस बार भी महाशिवरात्रि का अनोखा रंग चढ़ा नजर आया। 

0
Varanasi: धर्म और आध्यात्म की नगरी काशी में हर वर्ष की भांति इस बार भी महाशिवरात्रि का अनोखा रंग चढ़ा नजर आया। यहां पर आज काशी विश्वनाथ के दर्शन करने जा रहे श्रद्धालु, लाइन में खड़े भक्तों पर मुस्लिम समुदाय ने पुष्पवर्षा की। जिसमें गंगा-जमुनी तहजीब की झलक देखने को मिली। महाशिवरात्रि पर सांप्रदायिक सौहार्द का अनूठा नजारा देखने को मिला।

मुस्लिम समुदाय के लोगों ने गोदौलिया से लेकर से काशी विश्वनाथ मंदिर तक कतार बंद होकर खड़े लोगों पर फूलों की बारिश करते हुए ओम नम: शिवाय नारे का जयघोष लगाया। बड़ी संख्या में पहुंचे मुस्लिम महिला और पुरुषों ने शिव भक्तों पर फूलों की बारिश करते हुए यह संदेश देने की कोशिश की कि देश में ईद, दिवाली, होली और महाशिवरात्रि जैसे महापर्व साथ मिलकर मनाए जाते हैं।

ये भी पढ़ें- Womens Day: कुतुब मीनार, ताजमहल सहित सभी संरक्षित स्मारकों में महिलाओं को निशुल्क प्रवेश

काशी में मुस्लिमों ने शिव भक्तों पर मंदिर दर्शन के लिए जाते समय पुष्पवर्षा कर गंगा जमुनी तहजीब की परंपरा का निर्वहन किया। गंगा – जमुनी तहजीब की परंपरा के निर्वहन की यह प्रत्येक वर्ष प्रक्रिया अब परंपरा का हिस्सा बन चुकी है।

सुबह से ही मंदिर में दर्शन के लिए जाते समय आस्थावानों पर टोकरी से भरकर सभी पर पुष्पवर्षा कर भाईचारा और सौहार्द का संदेश दिया।
फूल बरसाने वाले स्थानीय मोहम्मद आसिफ ने बताया कि हर कोई भारतीय होने के नाते हर धर्म का सम्मान करता है। यही वजह है कि आज महाशिवरात्रि के मौके पर काशी से अनोखी तस्वीर सामने आई है। तस्वीरें लोगों को यह बताने के लिए काफी हैं कि भारत में सब धर्म एकजुट हैं और हर त्यौहार सभी साथ में मनाते हैं।

परवीन, आसमां तथा इमरान ने बताया कि, “हर भारतीय हर धर्म को सम्मान देता है। इसी कारण लोगों को आज यहां महाशिवरात्रि के मौके पर अनोखा नजारा देखने को मिला। आज का यह अवसर लोगों को बताने के लिए काफी हैं कि भारत में सब धर्म एकजुट हैं और हर त्योहार सभी साथ में मनाते हैं।”

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: