Kotak 811 account opening online apply zero balance

शिक्षामंत्री की नई किताब ‘संसद में हिमालय’ का विमोचन उपराष्ट्रपति के हाथों

अपने साहित्यिक यात्रा के दौरान कुल 4 दर्जन से अधिक किताबें लिख चुके हैं निशंक

0

केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक भारतीय जनता पार्टी के नेता होने के साथ-साथ एक साहित्यकार भी हैं। अपनी साहित्य यात्रा के दौरान रमेश पोखरियाल निशंक कविता संग्रह, कहानी संग्रह, उपन्यास सहित कुल मिलाकर 4 दर्जन से अधिक किताबें प्रकाशित करा चुके हैं। उनकी किताबों में एक और नई किताब जुड़ गई है जिसका नाम है ‘संसद में हिमालय’।

9 सितंबर को हिमालय दिवस (Himalaya Day) मनाया जाता है और इसी अवसर पर डॉ रमेश पोखरियाल निशंक (Dr. Ramesh Pokhariyal Nishank) ने अपनी नई किताब संसद में हिमालय (Sansad Mein himalay) का विमोचन उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू (Venkaiya Naidu) के हाथों कराया। निशंक ने सोशल मीडिया के माध्यम से बताया कि अपनी नई किताब की पहली प्रति उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू को भेंट कर उन्हें बहुत खुशी है। साथ ही उपराष्ट्रपति ने पुस्तक की विषय वस्तु पर बहुत खुशी जताई और निरंतर लेखन से जुड़े रहने की अपील की।

आपको बता दें की डॉ रमेश पोखरियाल निशंक उत्तराखंड कि हरिद्वार लोकसभा सीट से चुनकर संसद पहुंचे हैं। उत्तराखंड (Uttarakhand) के सांसदों में से उनको ही कैबिनेट में जिम्मेदारी मिली है इसलिए वह संसद में हिमालय का प्रतिनिधित्व करते हैं। इससे पहले डॉ निशंक के 10 उपन्यास, 10 कविता संग्रह, 12 कहानी संग्रह, 6 बाल साहित्य समेत 45 से अधिक किताबें प्रकाशित हो चुकी हैं।

डॉ रमेश पोखरियाल निशंक का पहला कविता संग्रह ‘समर्पण’ 1983 में प्रकाशित हुआ था। डॉ निशंक के साहित्यिक कार्य पर ‘कुमाऊं विश्वविद्यालय, गढ़वाल विश्वविद्यालय, सागर विश्वविद्यालय मध्य प्रदेश, मेरठ विश्वविद्यालय’ समेत अन्य कई विश्वविद्यालयों में शोध कार्य चल रहा है। उनकी पुस्तकों का कई देशी-विदेशी भाषाओं में अनुवाद भी हो चुका है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: