त्यौहारों पर यूपी सरकार ने जारी की गाइडलाइन, झांकी-जुलूस पर पाबंदी

कोरोना महामारी के प्रकोप के चलते लिया गया फैसला

0
(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push(});

लखनऊ: Uttar Pradesh  में कोराना का ग्राफ तेजी  से बढ़ रहा है। राजधानी लखनऊ में स्थिति बेहद चिंताजनक है।  कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते इस बार त्यौहारों का रंग फीका पड़ता नजर आ रहा है। संक्रमण फैलने की आशंका को देखते हुए यूपी में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी, गणेश चतुर्थी और मोहर्रम में जुलूस, झांकी और भीड़ पर पूरी तरह प्रतिबंध रहेगा। अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने इस संबंध में विस्तृत दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं।

सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देश में  सभी धार्मिक स्थलों विशेष कर मथुरा स्थित श्रीकृष्ण जन्मभूमि और अयोध्या में राम जन्म भूमि पर असामाजिक तत्वों, आतंकवादियों एवं समाज में अस्थिरता फैलाने वालों पर नजर रखने को कहा है।  सभी जिलों में धारा 144 लागू रहेगी। नियमों का उल्लंघन  करने पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।

इस बार जन्माष्टमी पर किसी भी तरह की झांकी निकालने की अनुमति नहीं दी गई है। गणेश चतुर्थी पर पूजा पंडाल में कोई मूर्ति स्थापित नहीं की जाएगी। मोहर्रम में भी जुलूस और ताजिया की अनुमति नहीं दी जाएगी।

सरकार की ओर से जारी गाइडलाइन

  • भीड़ इकट्ठी करने व असलहों के प्रदर्शन पर पाबंदी।
  • किसी भी धार्मिक स्थल पर भीड़ एकत्रित न होने दिया जाएगा।
  •  संवेदनशील, सांप्रदायिक व कंटेनमेंट जोन में पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती की जाएगी।
  • अफवाह फैलाने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सोशल मीडिया की 24 घंटे मॉनिटरिंग होगी। आपत्तिजनक पोस्ट संज्ञान में आते ही संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
  • डीएम-एसएसपी सामाजिक व सांप्रदायिक सौहार्द व सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करेंगे।
  • सार्वजनिक स्थानों पर शस्त्रों के प्रदर्शन पर रोक रहेगी।
  • छेड़खानी की घटनाओं को रोकने के लिए पर्याप्त संख्या में सादी वर्दी में पुरुष और महिला पुलिस कर्मियों की तैनाती की जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: