एक महीने से अनशन पर इलाहाबाद विवि के छात्र, UGC के खिलाफ खोला मोर्चा

समाजवादी पार्टी छात्रसभा 5 सूत्रीय मांगों के लिए क्रमिक अनशन कर रहा है

0

प्रयागराज: UGC ने विश्वविद्यालय के अंतिम वर्ष ( FINAL YEAR EXAMS)के छात्रों की परीक्षा को अनिवार्य कर दिया है जिसका देश भर में विररोध हो रहा है। अंतिम वर्ष के छात्रों को भी परीक्षा कराए बिना ही आंतरिक मूल्यांकन के आधार पर पास किए जाने की मांग लगातार उठ रही है।इसी मांग को लेकर इलाहाबाद युनिवर्सिटी( ALLAHABAD UNIVERSITY) के छात्र छात्रसंघ भवन पर समाजवादी छात्र सभा के छात्र बीते एक महीने से अनशन कर रहे हैं। प्रदर्शनकारी छात्रों का कहना है कि विश्वविद्यालय में अधिकांश छात्र दूसरे जिलों के हैं। अगर परीक्षा होती है तो दूसरे राज्यों से छात्र इलाहाबाद आएंगे। ऐसे में कोरोना का खतरा और ज्यादा बढ़ेगा। इसलिए परीक्षा कराए बिना ही सभी परीक्षार्थियों को प्रमोट और पास घोषित किया जाना चहिए।

अनशन कर रहे छात्र न केवल परीक्षा रद्द किए जाने की मांग पर अड़े हैं बल्कि उन्होने विवि प्रशासन से यह भी मांग की है कि  ऑनलाइन पढ़ाई होने पर सभी स्टूडेंट्स को मुफ्त लैपटॉप और रोजाना दो जीबी डेटा दिया जाए जिससे वो आसानी से आगे की पढ़ाई कर सकें।

बता दें कि छात्र बीते एक महीने से अनशन पर बैठे हैं। इन छात्रों से समाजवादी पार्टी के मुखिया और पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने फोन पर बात की है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: