बुलंदशहर की घटना का मुख्य आरोपी गिरफ्तार, जिम्मेदार अफसर हुए निलंबित

बुलंदशहर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) संतोष सिंह ने बताया कि बुलंदशहर शराब कांड का मुख्य आरोपी कुलदीप को पुलिस की टीम ने दिल्ली के शाहदरा से गिरफ्तार किया है।

0
बुलंदशहर: उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में अवैध शराब के कारण पांच लोगों की मौत के बाद मुख्यमंत्री ने कड़ा कदम उठाया है। इस घटना का मुख्य आरोपी कुलदीप दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है। साथ ही बुलंदशहर में सिकंदराबाद थाना में तीन के निलंबन के बाद आबकारी विभाग में भी तीन बड़े अधिकारियों को उनके पद से हटाने के साथ चार को निलंबित किया गया है।

बुलंदशहर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) संतोष सिंह ने बताया कि बुलंदशहर शराब कांड का मुख्य आरोपी कुलदीप को पुलिस की टीम ने दिल्ली के शाहदरा से गिरफ्तार किया है।

उधर, अपर मुख्य सचिव आबकारी संजय आर भूसरेड्डी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का निर्देश मिलने के बाद संयुक्त आबकारी आयुक्त के साथ उप आबकारी आयुक्त को पद से हटाने के बाद उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई का भी निर्देश दिया है। संयुक्त आबकारी आयुक्त राजेश मणि त्रिपाठी और उप आबकारी आयुक्त सुरेश चंद्र पटेल को उनके पद से हटाया गया है।

इन दोनों बड़े अफसरों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई का भी निर्देश दिया गया है। इनके अलावा जिला आबकारी अधिकारी बुलंदशहर संजय कुमार त्रिपाठी का भी तबादला कर दिया गया है। इनके खिलाफ भी विभागीय कार्रवाई की जाएगी। संयुक्त आबकारी आयुक्त और उप आबकारी आयुक्त को आबकारी आयुक्त मुख्यालय से संबंद्ध किया गया है। इन तीनों की विभागीय जांच भी होगी।

बुलंदशहर की इस घटना के बाद आबकारी निरीक्षक के साथ ही प्रधान आबकारी सिपाही और दो आबकारी सिपाही को निलंबित किया गया है। इस गंभीर प्रकरण में बुलंदशहर के जिला आबकारी निरीक्षक प्रभात वर्धन के साथ ही प्रधान आबकारी सिपाही रामबाबू तथा आबकारी सिपाही श्रीकांत सॉन्ग व सलीम अहमद को निलम्बित किया गया है।

गौरतलब है कि बुलंदशहर के सिकंदराबाद कोतवाली क्षेत्र के गांव जीतगढ़ी में जहरीली शराब पीने से अब तक कुल पांच लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 16 लोगों की हालत गंभीर है। गंभीर लोगों को उपचार के लिए विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। इस मामले में लापरवाही के आरोप में थाना प्रभारी समेत तीन लोगों को निलंबित कर दिया गया।

जिलाधिकारी रविंद्र कुमार ने बताया कि प्रथम²ष्टया में यह पाया गया है कि शराब बाहर से लाई गई थी। शराब की दुकानों पर छापेमारी की जा रही है। बताया गया कि मृतक सभी मजदूर थे। मृतकों ने गांव में ही अवैध रूप से शराब बेचने वाले एक युवक से रात शराब खरीदकर पी थी। शराब पीने के कुछ देर बाद ही लोगों की हालत बिगड़ने लगी। परिजन उपचार के लिए उन्हें चिकित्सकों के पास लेकर पहुंचे। जिसमें से पांच की मौत हो गई।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: