Charanjit Singh Channi: पहली बार पंजाब की कमान दलित CM के हाथ में, जानें कौन हैं पंजाब के नए मुख्यमंत्री

0

Charanjit Singh Channi: कई घंटों की टेंशन और राजनीति सरगर्मी के बाद आखिरकार रविवार शाम को चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब कांग्रेस विधायक दल का नेता चुन लिया गया । पंजाब कोंग्रेस के प्रभारी हरीश रावत ने चरणजीत सिंह चन्नी के नाम की घोषणा कर दी। चन्नी पंजाब के पहले दलित मुख्यमंत्री बनेंगे।

ये भी पढ़े-Namo Gange Trust : नमो गंगे ट्रस्ट द्वारा नवजीवन कुष्ठ आश्रम में किया गया अन्न दान

Charanjit Singh Channi आज 11 बजे लेंगे मुख्यमंत्री पद की शपथ

चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) को कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार में मंत्री थे और 3 बार विधायक रह चुके हैं। चन्नी को अमरिंदर सिंह का धुर विरोधी नेता माना जाता है। सूत्रों का कहना है कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू ने चन्नी के नाम की जोरदार पैरवी की और फिर राहुल गांधी ने दिल्ली में लंबी मंत्रणा के बाद चन्नी के नाम को मंजूरी दी। विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद वह चंडीगढ़ स्थित राजभवन में राज्यपाल से मिलने गए। इस मौके पर उनके साथ नवजोत सिंह सिद्धू और हरीश रावत भी साथ थे। करीब आधे घंटे चली बातचीत के बाद बाहर आए।

Charanjit Singh Channi

Charanjit Singh Channi पंजाब के पहले दलित मुख्यमंत्री

चरणजीत सिंह पंजाब में कांग्रेस के बड़े दलित नेता माने जाते हैं। कैप्टन सरकार में रहने के साथ साथ उनके पास विपक्ष में रहने का भी अनुभव है। पंजाब की राजनीति के जानकारों का मानना है कि चरणजीत के जरिए कांग्रेस ने चुनावों से पहले दलित कार्ड चलकर। राज्य में दलितों के बिखरे वोटबैंक को इकट्ठा करने के प्रयास में है। पंजाब में करीब 20 फीसदी दलित आबादी है। ऐसे में इसे कांग्रेस की दलितों के बिखरे हुए वोटों को एकजुट करने की कवायद के तौर पर देखा जा रहा है।

Charanjit Singh Channi अमरिंदर सिंह सरकार में थे तकनीकी शिक्षा मंत्री

चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब कांग्रेस के सीनियर दलित सिख नेता है। उनको राहुल गांधी का करीबी माना जाता है।चरणजीत सिंह चन्नी राज्य की चमकौर साहिब सीट से कांग्रेस के विधायक हैं।  उनकी राजनीतिक यात्रा 2002 में खरार नगर परिषद के अध्यक्ष के रूप में चुने जाने के साथ शुरू हुई। चन्नी ने पहली बार 2007 में निर्दलीय के रूप में चुनाव लड़ा और चमकौर साहिब विधानसभा क्षेत्र से जीते। वह 2012 में कांग्रेस में शामिल हुए।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.