UP Election Result 2022: राजा भैया ने 7वीं बार कुंडा में लहराया जीत का परचम, लेकिन फीकी पड़ी बादशाहत की चमक

0

UP Election Result 2022: प्रतापगढ़- लगातार सातवीं बार राजा भैया ने कुंडा से अपनी जीत दर्ज की है लेकिन उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Election Result 2022) में लगातार सातवीं बार जीत हासिल तो कर ली लेकिन इस बार उनकी जीत उतनी मजेदार नहीं रही जितनी पिछले 6 बार से होती आ रही थी।

UP Election Result 2022: यूपी की सियासत में कुंडा सीट पर चर्चा हमेशा से अहम

UP Election Result 2022

राजा भैया (Raja Bhaiya) के नाम से मशहूर रघुराज प्रताप सिंह (RAGHURAJ PRATAP SINGH) ने बड़ा रिकॉर्ड कायम किया है। यूपी विधानसभा चुनाव में प्रतापगढ़ की कुंडा सीट पर एक बार फिर से रघुराज प्रताप सिंह ने जीत दर्ज कर ली है। यूपी की सियासत में इस सीट की बड़ी चर्चा रहती है, क्योंकि कुंडा (Kunda assembly seat result) में केवल एक ही शख्स का राज चलता है और वह हैं राजा भैया।

UP Election Result 2022: डेढ़ लाख वोटों से जीतने का किया था वादा

राजा भैया ने भले ही समाजवादी पार्टी के गुलशन यादव को हरा दिया हो, मगर इस बार उनकी सियासी बादशाहत कम हो गई है, क्योंकि इस बार उन्होंने डेढ़ लाख वोटों से जीतने का वादा किया था।

राजा भैया की सियासी बादशाहत इसलिए भी कम होती मानी जा रही है, क्योंकि इस बार कुंडा में कांटे की टक्कर देखने को मिली। पिछली बार राजा भैया कुंडा सीट से करीब एक लाख वोटों के अंतर से चुनाव जीते थे, मगर इस बार यह अंतर काफी कम रहा। इस विधानसभा चुनाव में राजा भैया ने सपा के गुलशन यादव से महज 25-30 हजार के वोटों के अंतर से ही जीत हासिल कर पाए। 2012 के विधानसभा चुनाव में भी राजा भैया के जीत का अंतर करीब 90 हजार था।

UP Election Result 2022: कभी कांग्रेस का गढ़ मानी जाती थी कुंडा विधानसभा सीट

बता दें कि रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया कुंडा विधानसभा सीट पर 1993 से लगातार जीतते आ रहे हैं। इस चुनाव में रघुराज प्रताप सिंह अपने जनसत्ता दल (लोकतांत्रिक) के टिकट पर मैदान में थे। कुंडा विधानसभा शुरुआती साल में कांग्रेस का गढ़ रही। 1962 से लेकर 1989 तक लगातार पांच बार यहां कांग्रेस के नियाज हसन विधायक रहे। बीजेपी को यहां आखिरी जीत 1991 में मिली थी, तब शिव नारायण मिश्रा ने यहां भगवा झंडा लहराया था। उन्होंने कांग्रेस के नियाज हसन को मात दी थी।

UP Election Result 2022: 1993 से लगातार जीतते आ रहे हैं राजा भैया

1993 के बाद से राजा भैया सात बार विधानसभा चुनाव जीत चुके हैं. 2017 के चुनाव में निर्दलीय मैदान में उतरे राजा भैया ने बीजेपी के जानकी शरण को 103647 वोटों के बड़े अंतर से हराया था. इस चुनाव में राजा भैया को 136597 वोट मिले थे. वहीं, बीजेपी के जानकी शरण को केवल 32950 वोट मिल पाए थे.

UP Election Result 2022: किसे कितने फीसदी मिले वोट

पिछले चुनाव की तुलना में भाजपा को महज करीब दो से तीन फीसदी वोट शेयर का फायदा हुआ है। इस बार भाजपा को 42.4 फीसदी वोट मिले हैं, जबकि सपा को फायदा हुआ है। सपा के वोट शेयर में बड़ा इजाफा हुआ है और यह आंकड़ा 31.6 पर चला गया है। बसपा को पिछली बार से भी अधिक नुकसान हुआ है, क्योंकि मायावती की पार्टी का वोट शेयर इस बार 12.7 फीसदी दर्ज किया गया है। इसी तरह कांग्रेस के वोट शेयर में भी गिरावट आई है और 2.43 फीसदी दर्ज किया गया है। इससे स्पष्ट होता है कि कांग्रेस-बसपा के वोट शेयर गिरने से सपा को फायदा हुआ है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.