UP Budget 2022: योगी सरकार ने अपने बजट में 27 हजार करोड़ की नई योजनाओं को किया शामिल, पेंशन में किया इजाफा

0

UP Budget 2022: उत्तर प्रदेश विधानसभा में गुरुवार को योगी सरकार 2.O का पहला बजट पेश किया गया। योगी सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए अब तक का सबसे बड़ा 5 लाख 50 हजार 270 करोड़ 78 लाख रुपये का बजट पेश किया जिसमें कई बड़ी घोषणाएं की हैं। महिलाओं को ध्यान में रखते हुए कई घोषणाएं की गई। पेंशन में इजाफा करके भी उन्हें राहत देने की कोशिश की गई है।

UP Budget 2022

 

UP Budget 2022-औद्योगिक विकास एवं अवस्थापना के लिए की गई घोषणाएं

– गंगा एक्सप्रेस वे परियोजना के लिए भूमि अधिग्रहण हेतु 7200 करोड़ रुपये और निर्माण कार्य के लिए 489 करोड़ रुपये बजट की व्यवस्था की।

– गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के लिए 860 करोड़ रुपये का एलान किया।

– प्रदेश सरकार ने पूर्वांचल पूर्वांचल एक्सप्रेस वे के लिए 1107 करोड़ रुपये का एलान किया।

– बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे परियोजना के लिए 1492 करोड़ रुपये का एलान किया।

UP Budget 2022 में महिलाओं के लिए ऐलान

-वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने बजट पेश करते हुए कहा कि निराश्रित महिला पेंशन को बढ़ाकर 1000 रुपए कर दिया गया है। वित्तीय वर्ष 2022-23 बजट में इस योजना के लुए 4032 करोड़ रुपए का प्रवाधान। इसके अलावा वृद्धावस्था पेंशन को भी बढ़ाकर 1000 रुपए प्रतिमाह कर दिया गया है, जिसका बुजुर्ग महिलाओं को भी लाभ मिलेगा।

-सामूहिक विवाह योजना के लिए 600 करोड़ रुपए का प्रवाधान किया गया है, जिससे गरीब बेटियों की शादी में खर्च किया जाएगा।

-प्रदेश में 9 से 14 साल की एक लाख बालिकाओं को एचपीवी वैक्सीन की दोनों खुराक के लिए 50 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।

-प्रदेश में महिलाओं एवं बालिकाओं की सुरक्षा सुदृढ बनाये रखने के उद्देश्य से प्रदेश के सभी जनपदों के समस्त 1535 थानों पर महिला बीट आरक्षी नामित करते हुए “महिला हेल्प डेस्क ” की स्थापना की गई है।

UP Budget 2022 में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग के लिए घोषणाएं

– प्रदेश में एक जिला- एक उत्पाद योजना के लिए 250 करोड़ रुपये की घोषणा।

– उत्तर प्रदेश स्टेट स्पिनिंग कंपनी की बंद पड़ी कताई मिलों की परिसंपत्तियों को पुनर्जीवित कर पीपीपी मोड में औद्योगिक पार्क/आस्थान/क्लस्टर स्थापित कराए जाने का निर्णय। इसके लिए 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था।

– मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के लिए 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था।

– शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों के पारंपरिक कारीगरों के लिए विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के लिए 30 करोड़ रुपये बजट की व्यवस्था।

आई टी एवं इलेक्ट्रानिक्स के लिए घोषणाएं

– यमुना एक्सप्रेस वे में जेवर एअरपोर्ट के समीप एक इलेक्ट्रानिक सिटी की स्थापना। बुंदेलखंड में रक्षा इलेक्ट्रानिक मैन्यूफैक्चरिंग क्लस्टर की स्थापना का लक्ष्य।

– लखनऊ में एअरपोर्ट के सामने नादरगंज में 40 एकड़ क्षेत्रफल में पीपीपी मॉडल पर अत्याधुनिक सूचना प्रौद्योगिक काम्प्लैक्स का निर्माण प्रस्तावित।

ये भी पढ़ें-BJP played backward card: स्वतंत्र देव सिंह को विधान- परिषद में नेता सदन बनाकर भाजपा ने चला पिछड़ा कार्ड

युवाओं के लिए की गई घोषणाएं

– अभ्युदय योजना के लिए 20 करोड़ रुपये की व्यवस्था।

– संस्कृत विद्यालयों में अध्ययनरत निर्धन छात्रों को गुरुकुल पद्धति के अनुरुप निशुल्क छात्रावास और भोजन की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.