जानिए लालू ने किसे कहा था सियासत का सबसे बड़ा मौसम वैज्ञानिक

रामविलास पासवान बिहार के एक दलित नेता हैं । बिहार में जब 1990 से 2005 , यानी 15 सालों तक लालू यादव के पार्टी की सत्ता रही तब तक रामविलास के पास बिहार के सत्ता की कुंजी रहती थी ।

0

बिहार आधारित एक क्षेत्रीय पार्टी लोक जनशक्ति पार्टी, जिसने कभी अपने दम पर बिहार के पूरे सीटों पर चुनाव तक नहीं लड़ा उसके मुखिया रामविलास पासवान राजनीति के मंझे हुए खिलाड़ी कहे जाते हैं। लेकिन रामविलास पासवान परिवारवाद के पैरोकार हैं और उन्होंने मौका परस्ती के अलावा आज तक राजनीति में किसी और चीज को तरजीह नहीं दी है। रामविलास जब रेल मंत्री बने थे तो उन्होंने अपने ही संसदीय क्षेत्र हाजीपुर में पूर्वी मध्य रेलवे का मुख्यालय बनवा दिया । अपने पैंतरों और दलित कार्ड से रामविलास ने राजनीति के धुरंधरों के किलों में हमेशा से ही सेंधमारी की है।

 

1969 से अब तक यानी 50 साल से सांसद, विधायक रहने वाले दलित नेता रामविलास पासवान को लालू प्रसाद यादव ने कहा था कि रामविलास, मौसम वैज्ञानिक हैं । लालू प्रसाद ने उनको यह तमगा इसलिए दिया था क्योंकि रामविलास चुनाव से पहले जिस दल के साथ खड़े हो जाते हैं वह दल चुनाव में बाजी मार ही जाता है। इस तरह रामविलास लगातार किसी न किसी बड़े ओहदे पर काबिज ही रहते हैं । कुल मिलाकर रामविलास राजनीति में होने वाले बदलाव को बहुत अच्छी तरह भांप लेते हैं।

 

लालू और शरद यादव के साथ रामविलास

 

रामविलास पासवान केवल 50 सालों से सांसद या विधायक ही नहीं है बल्कि वे 1996 के बाद लगातार सभी केंद्रीय सरकारों में मंत्री भी रहे हैं ।1988-89 में वीपी सिंह, फिर देवगौड़ा , गुजराल, अटल बिहारी, मनमोहन सिंह और अब नरेंद्र मोदी सबके साथ उन्होंने काम किया है । उनके नाम छः प्रधानमंत्रियों के साथ काम करने का अनूठा रिकॉर्ड भी है ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: