दिल्ली में मिली लव जिहाद ‘पीड़िता’, लाई गई उत्तर प्रदेश

एटा जिले की लापता युवती (21) को उत्तर प्रदेश पुलिस की एक टीम ने बुधवार को दिल्ली के कड़कड़डूमा मेट्रो स्टेशन के पास एक घर से ढूंढ निकाला है। युवती लापता होने के 35 दिन बाद मिली है।

0
एटा:  एटा जिले की लापता युवती (21) को उत्तर प्रदेश पुलिस की एक टीम ने बुधवार को दिल्ली के कड़कड़डूमा मेट्रो स्टेशन के पास एक घर से ढूंढ निकाला है। युवती लापता होने के 35 दिन बाद मिली है।
हिंदू महिला को इस्लाम कबूल कराने वाला अपहरण और गैरकानूनी रूप से धर्मांतरण का मुख्य आरोपी मोहम्मद जावेद अपने 4 निकट संबंधियों के साथ गायब हो गया था। राज्य के नए धर्मांतरण विरोधी कानून के तहत मामला दर्ज किए जाने के बाद एटा पुलिस फरार हुए 5 लोगों के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी करने के लिए एक स्थानीय अदालत पहुंची थी। अदालत ने पांचों आरोपियों के खिलाफ वारंट जारी कर दिया।

अब तक जावेद के 14 रिश्तेदारों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है, इसमें 3 महिलाएं शामिल हैं। एक पुलिस अधिकारी ने कहा, युवती को बुधवार की देर शाम एटा लाया गया है, और मेडिकल जांच के बाद उसे गुरुवार को अदालत में पेश किया जाएगा।

डीएसपी राम निवास सिंह ने कहा, 6 दिनों के प्रयासों के बाद हमने दिल्ली के कड़कड़डूमा मेट्रो स्टेशन के पास एक घर से युवती को बरामद कर लिया है। मुख्य आरोपी ने उसे अपने दोस्त के घर पर रखा था। वह अभी तक अपने पिता द्वारा लगाए गए अपहरण और गैरकानूनी तरीके से धमार्तंरण के आरोपों पर कोई जानकारी देने के लिए तैयार नहीं हुई है।

बता दें कि 28 वर्षीय जावेद और उसके परिवार के 5 सदस्यों पर पिछले हफ्ते युवती का अपहरण करने और उसे इस्लाम में परिवर्तित करने का मामला दर्ज किया गया था।

पुलिस के अनुसार, युवती 17 नवंबर से लापता थी, लेकिन उसके परिवार ने 17 दिसंबर को तब मामला दर्ज कराया जब उन्हें जावेद के वकील ने दिल्ली से एक पत्र भेजकर युवती के धर्म परिवर्तन करने और अदालत में शादी करने की जानकारी दी थी। पुलिस ने आईपीसी की धारा 366 और उप्र के नए धर्मांतरण विरोधी कानून 2020 के तहत मामला दर्ज किया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: