हिमाचल के मुख्यमंत्री ने 50,192 करोड़ रुपये का बजट पेश किया

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए शनिवार को 50,192 करोड़ रुपये का बजट प्रस्तुत किया, जिसमें कोरोनवायरस महामारी के बावजूद किसी भी नए कर के लिए कोई प्रावधान नहीं है।

0

Shimla: हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने वित्त वर्ष 2020-21 के लिए शनिवार को 50,192 करोड़ रुपये का बजट प्रस्तुत किया, जिसमें कोरोनवायरस महामारी के बावजूद किसी भी नए कर के लिए कोई प्रावधान नहीं है।

बजट में, सीएम ने नेलागढ़ में एक इलेक्ट्रॉनिक्स और बिजली उपकरण विनिर्माण केंद्र, ऊना जिले में एक ड्रग पार्क स्थापित करने का प्रस्ताव रखा। साथ ही यहां खिलौना विनिर्माण क्लस्टर की स्थापना भी होगी।

2020-21 की तुलना में बजट राशि इस बार 1,061 करोड़ रुपये अधिक है। अपने पेपरलेस स्पीच में, ठाकुर ने कहा कि यह गर्व का विषय है कि सरकार हिमाचल प्रदेश की 50 वर्ष पूरा होने पर 50,000 करोड़ रुपये से अधिक का बजट पेश कर रही है। मुख्यमंत्री ठाकुर अपने पास वित्त विभाग भी रखते हैं।

ये भी पढ़ें- CBSE : 10वीं और 12वीं परीक्षा तिथियों में बदलाव

मुख्यमंत्री ने मंत्रियों और विधायकों के वेतन और मानदंडों को बहाल करने की घोषणा की, जिसमें कोविड से लड़ने के लिए आवश्यक संसाधन जुटाने हेतू पिछले साल अप्रैल में 30 फीसदी की कटौती की गई थी।

ठाकुर ने विधायक क्षेत्र विकास निधि योजना को पुनस्र्थापित करने की भी घोषणा की, जिसे पिछले साल अप्रैल में महामारी के कारण निलंबित कर दिया गया था।

उन्होंने कहा, यह योजना 2021-22 में बहाल हो जाएगी और मैं निधी योजना को मौजूदा 1.75 करोड़ रुपये से 1.80 करोड़ रुपये तक बढ़ाने की घोषणा करता हूं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: