Delhi: महिला किसान दिवस : आज प्रदर्शन की डोर महिलाओं के हाथ |

आज राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में किसान प्रदर्शन की डोर महिलाएं संभालेंगी और हाथों में मेंहदी रचाकर नए कृषि कानूनों का जताएंगी विरोध |

0
Delhi: आठ मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाता है | इस खास मौके को किसान एक अलग तरीके से महिला किसान दिवस के रूप में मनाएंगे और दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर और सिंधु- टिकरी बॉर्डर पर चल रहे नए कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन का संचालन आज महिलाएं करेंगी | दिल्ली में 3 महीनो से किसान आंदोलन हो रहा है और आज अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के रूप में महिलाएं अपनी भागेदारी निभायेगी | अलग अलग प्रदर्शन स्थल पर महिलाएं पहुंच गई है |
Delhi
महिला किसान दिवस |
ये भी पढ़ें- हिमाचल के मुख्यमंत्री ने 50,192 करोड़ रुपये का बजट पेश किया

केसे मनाया जायेगा महिला किसान दिवस :-

किसान आंदोलन में हुई महिलाओं की बैठक में यह फैसला लिया गया था की अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के दिन महिलाएं अपने हाथों में मेंहदी लगाकर विरोध जताएंगी | यह मेंहदी कोई आम मेंहदी नहीं होगी | महिलाएं अपने हाथों में इंकलाबी नारे रचवाएंगी और खेत, खलियान, फसल , किसानों और किसानों उपकरणों जैसे हल, फावड़ा, कुल्हाड़ी, कुदाल के चित्र बनवाएंगी | इसके द्वारा वे किसानों के संघर्ष को दर्शाएगी | आज मोर्चे में महिलाएं बड़ी संख्या में हिस्सा लेगी | साथ ही महिलाएं चंदा जमा करना, भाषण देना जैसी अनेक जिम्मेदारियों को भी संभालेंगी | महिलाओं का कहना है यह एक इतिहास लड़ाई होगी |

महिलाओं को किया जायेगा सम्मानित :-

किसान नेता सुनीता टम्टा ने बताया है की अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर महिलाओं को मंच पर बुला कर सम्मानित किया जाएगा और उनके कार्यों के लिए उन्हें प्रोत्साहित किया जाएगा | महिलाओं अपने अनुभवों को सभी लोगो के साथ व्यक्त करेंगी|इनसे उनका आत्मबल बढ़ेगा |

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को facebook Page पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: