Beating Retreat Ceremony 2022: ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह के साथ खत्म हुआ गणतंत्र दिवस समारोह

Beating Retreat Ceremony 2022: ड्रोन शो, लेजर शो और तीनो सेना के धुन ने सब का मोह लिया मन

0

Beating Retreat Ceremony 2022: गणतंत्र दिवस के बाद हर साल होने वाला ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह इस साल भी खास तरीके से मनाया गया। बता दें, ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह की शुरूआत शाम 5 बजे हुई। राजधानी दिल्ली के विजय चौक पर इस बार के ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह में एक हजार ड्रोन से आसमान में कई आकर्षक आकृतियां भी उकेरी गई। आज के ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ साथ रक्षामंत्री राजनाथ सिंह भी मौजूद रहे।

इस बार खास तौर पर एक हजार ड्रोन का शो आकर्षण का केंद्र बना रहा। बता दें, आज ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह में ड्रोन शो को दिल्ली आईआईटी की मदद से किया गया। ये शो कुल 15 मिनट को रहा। इसके साथ ही केंद्रीय पुलिबल, थलसेना, वायुसेना, और नौसेना के बैंड्स के पर्फोरमेंस आज के बीटिंग रिट्रीट समारोह में शामिल रहे। ”ऐ मेरे वतन के लोगों” धुन को भी आज के समारोह में बजाया गया।

Beating Retreat Ceremony 2022: एयरफोर्स के म्यूजिकल दस्ते का धुन रहा सबसे खास

Beating Retreat Ceremony 2022
Beating Retreat Ceremony 2022

ये भी पढ़ें- LPG Cylinder Price Increase: 1 फरवरी 2022 से 100 रुपए तक बढ़ सकते हैं LPG सिलेंडरों के दाम

एयरफोर्स के म्यूजिकल दस्तों ने मिग लड़ाकू विमान की आकृती में अपने बैंड की प्रस्तुती की। एयरफोर्स के धुन का नाम ‘स्वदेशी’ था और लहराते हुए तिरंगे की आकृती भी जवानों ने बनाई। इसके बाद ”अमर चट्टान” धुन को बजाया गया और एयरफोर्स के जवानोंं ने भारत के नक्शे का रूप लिया। आज के वायु सेना बैंड के धुन को फ्लाइट लेफ्टिनेंट एलएस रूपाचंद्र ने कंपोज किया था।

Beating Retreat Ceremony 2022: इंडियन नेवी ने ‘गोल्डेन एरोज़’ धुन से की शुरूआत

एयरफोर्स के बाद भारतीय नेवी के बैंड ने सब का मन मोह लिया। इंडियन नेवी ने अपने बैंड की शुरूआत ‘गोल्डेन एरोज़’ धुन से की। इंडियन नेवी के बैंड की धुन को जे रॉड्रिग्स ने कंपोज किया था। ”आईएनएस इंडिया” धुन के वक्त इंडियन नेवी के जवाने ने गोल आकृती बनाकर नजारा और मनोहर कर दिया। इसके बाद ”यशस्वी” धुन को बजाया गया। इसके साथ ही आज के समारोह में इंडियन नेवी के जवानों ने ‘जय भारती’ धुन को बजाया। जिसे एम दास और जे रॉड्रिग्स ने मिलकर कंपोज किया था।

Beating Retreat Ceremony 2022: इंडियन आर्मी के बैंड की शुरूआत ‘केरला’ धुन हुई

Beating Retreat Ceremony 2022
Beating Retreat Ceremony 2022

आपको बता दें, इंडियन नेवी के बाद आज के ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह इंडियन आर्मी के बैंड की बारी आई। जिसमें तीन धुन सुनाई दी। सबसे पहले ‘केरला’ धुन सुनने को मिला। जिसे सीएच मेजर एन माधवन नायर ने कंपोज किया था। जिसकी धुन सबसे अलग थी। ‘सिकी ए मोल’ धुन ने सब को मंत्रमुग्ध कर दिया। इसे एलबी गुरुंग ने कंपोज किया था। इसके बाद ‘हिंद की सेना’ धुन इंडियन आर्मी के जवानों ने बजाई जिसे मेजर एसआर भूसाल ने कंपोज किया था। अंत में ”कदम कदम बढ़ाए जा” धुन के साथ इंडियन आर्मी के बैंड का समापन हुआ।

Beating Retreat Ceremony 2022: ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह का इतिहास

ये भी पढ़ें- Amit Shah Rally In Muzaffarnagar: आज मुजफ्फरनगर में अमित शाह ने किया रैली को संबोधित

आपको बता दें, हर साल 26 जनवरी यानी गणतंत्र दिवस के तीन दिन बाद यानी 29 जनवरी की शाम को ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह का आयोजन किया जाता है। ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह का आयोजन इसलिए किया जाता है क्योंकि प्राचीन काल में जब युद्ध के दौरान दिन खत्म होने के बाद युद्ध के मौदान से सेनाएं जब सैन्य धुन बजाकर अपने अपने शिवर में वापस लौट जाती थीं। इसलिए गणतंत्र दिवस पर जब सैन्य साजो-सामान जैसे हथियारों और टैंकों को परेड के लिए बाहर निकाला जाता है तो उसे वापस बैरक में वापस रखने के बाद ‘बीटिंग रिट्रीट’ समारोह का आयोजन किया जाता है।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.