Alwar Shiv Mandir Demolition: राजस्थान के अलवर में 300 साल पुराने मंदिर पर चला बुलडोजर, जानें क्या है पूरा मामला

Alwar Shiv Mandir Demolition: अशोक गहलोत सरकार भारतीय जनता पार्टी के निशाने पर है

0

Alwar Shiv Mandir Demolition: देश में इस वक्त बुलडोजर विवाद जोरों पर है। जहां बीजेपी शासित राज्यों में अवैध निर्माण पर बुलडोजर चलाया जा रहा है तो वही अब राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने भी बडोजर चलाया है। बता दें राजस्थान के अलवर जिले में प्रशासन ने 300 साल पुराने शिव मंदिर पर बुलडोजर चलवी दिया।

सूत्रों की माने तो अलवर जिले राजगढ़ में बने 300 साल पुराने मंदिर को बुलडोजर से ना केवल जमींदोज कर दिया गया बल्की मंदिर में बनी मूर्तियों को कटर से काटकर धवस्त कर दिया गया। जिस शिवालय की लोग पूजा अर्चना करते थे उस पर जूते पहनकर चढ़ने से कई हिंदू संगठन नाराज हो गए हैं।

ये भी पढ़ें- Approval Corbevax For Kids: देश में जल्द शुरू होगा 5 से 11 साल के बच्चों को वैक्सीनेशन

Alwar Shiv Mandir Demolition: EO, SDM और राजगढ़ विधायक के खिलाफ मामला दर्ज करने की तहरीर

Alwar Shiv Mandir Demolition
Alwar Shiv Mandir Demolition

अलवर में हुई इस घटना के बाद से विरोध में नगर पालिका के EO, SDM और राजगढ़ विधायक के खिलाफ मामला दर्ज करने की तहरीर दी गई है। लेकिन अभी तक पुलिस ने केस दर्ज नहीं किया है। इस घटना के बाद से ही राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार भारतीय जनता पार्टी के निशाने पर है।

Alwar Shiv Mandir Demolition: BJP नेशनल आईटी सेल चीफ अमित मालवीय की प्रतिक्रिया

बता दें, इस मामले पर भारतीय जनता पार्टी की नेशनल आईटी सेल के चीफ अमित मालवीय ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि, ”राजस्थान के अलवर में विकास के नाम पर तोड़ा गया 300 साल पुराना शिव मंदिर… करौली और जहांगीरपुरी पर आंसू बहाना और हिंदुओं की आस्था को ठेस पहुंचाना- यही यही है कांग्रेस का सेक्युलरिज्म है। इसके साथ ही भारतीय जनता पार्टी की नेशनल आईटी सेल के चीफ अमित मालवीय ने यह भी कहा कि, ”18 अप्रैल को राजस्थान के राजगढ़ कस्बे में बिना नोटिस प्रशासन ने 85 हिंदुओं के पक्के मकानों और दुकानों पर बुलडोजर चला दिया।” यह बातें अमित मालवीय ने ट्वीट कर कहीं।

Alwar Shiv Mandir Demolition: क्या है पूरा मामला

Alwar Shiv Mandir Demolition
Alwar Shiv Mandir Demolition

आपको बता दें, इससे पहले भी राजस्थान के अलवर में तीन हिंदू मंदिरों को गिराने का मामला सामने आया है। दरअसल एक मास्टर प्लान के तहत अतिक्रमण के नाम पर राजगढ़ प्रशासन ने 300 साल पुराने तीन मंदिरों को गिरा दिया। इतना ही नहीं मंदिर में लगी भगवान शिव, हनुमान जी के साथ साथ अन्य देवी देवताओं की मूर्ति को खंडित कर दिया गया। इस तरह के मामले बीते 17 अप्रैल से राजगढ़ में देखने को मिल रहे हैं। जहां अतिक्रमण की आड़ में हिंदू मंदिरों को गिराया जा रहा है।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.