US: रेमेडिसविर दवा के प्रयोग की मिली मंजूरी

अमेरिका में अब सभी कोरोना मरीजों को दी जाएगी रेमेडिसविर दवा

0

कोरोना वायरस (Corona Virus) से सबसे ज्यादा प्रभावित देश अमेरिका (America) है जहां अब तक 60 लाख से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित (Corona Positive) हो चुके हैं। ऐसे में खबर है कि अमेरिका में कोरोना संक्रमित मरीजों को एंटीवायरल ड्रग (Antiviral Medicine) रेमेडिसविर (Remdesivir) दिया जाएगा। अमेरिकी सरकरा ने रेमेडिसविर दवा के इस्तेमाल की इजाजत दे दी है। जिससे लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामलों को कंट्रोल कर अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित मरीजों को जल्द स्वस्थ्य किया जा सके।

इस बाबत जानकारी देते हुए अमेरिका की ड्रगमेकर कंपनी गिलियड साइंसेज ने कहा कि नियामकों ने COVID ​​-19 की वजह से अस्पताल में भर्ती सभी मरीजों के लिए एंटीवायरल ड्रग रेमेडिसविर के इस्तेमाल करने की अनुमति दे दी है। बता दें इससे पहले अमेरिकी खाद्य और औषधि प्रशासन ने केवल आपातकालीन स्थिति में ही रेमेडिसविर के इस्तमाल की इजाज़त दी थी।

आपको बता दें बढ़ते कोरोना के मरीजों के इजाल के लिए कैलिफ़ोर्निया की कंपनी गिलियड ने बीते10 अगस्त को रेमेडिसविर की औपचारिक मंजूरी के लिए आवेदन किया था, जिसकी इजाजत मिल चुकी है, लेकिन अमेरिका में इसका ब्रांड नाम वेक्लेरी के तहत बेचा जाएगा। इस बारे में गिलियड कंपनी का कहना है कि इस दवा की अनुमति के बाद अस्पताल में भर्ती मरीजों को रेमेडिसविर ड्रग दिया जाएगा।

गिलियड कंपनी ने एक इस बारे में एक अध्ययन में पाया कि अस्पताल में भर्ती कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों को जब रेमेडिसविर दवा दिया गया तो इसके इस्तेमाल के बाद पांच दिन के उपचार में ही मरीजों में पहले से करीब 65 प्रतिशत अधिक सुधार देखा गया।

बता दें दुनियाभर में 2.48 करोड़ लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। वहीं 8.38 लाख से ज्यादा की जान जा चुकी है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: