कोविड-19: वैक्सीन को लेकर रूस ने कही ये खास बात

अगले हफ्ते रजिस्टर होगी दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन- उप-स्वास्थ्य मंत्री ओलेग ग्रिडनेव

0

पूरी दुनिया इस वक्त कोरोना महामारी की मार झेल रही है। इस जानलेवा वायरस के खिलाफ जारी जंग को जीतने के लिए भारत, रूस, अमेरिका, ब्रिटेन समेत दुनियां के अन्य कई देशों  कोरोना की वैक्सीन पर शोध किया जा रहा है। रूस, अमेरिका और ब्रिटेन वैक्सीन के काफी करीब भी हैं।

अब खबर है कि रूस ने अगले हफ्ते दुनिया के पहले एटी-कोविड वैक्सीन को रजिस्टर करने की योजना बनई है। गामालेया रिसर्च इंस्टीट्यूट और रूसी रक्षा मंत्रालय ने संयुक्त रूप से कोरोना का वैक्सीन विकसित किया गया है। इस बाबत रूस के उप-स्वास्थ्य मंत्री ओलेग ग्रिडनेव ने कहा कि रूस 12 अगस्त को कोरोनो वायरस के खिलाफ अपने पहले वैक्सीन को रजिस्टर करेगी। ये बात ओलेग ग्रिडनेव ने रूस के ऊफ़ा शहर में एक कैंसर केंद्र भवन का उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान कही।

आपको बता दें रूस के उप-स्वास्थ्य मंत्री ओलेग ग्रिडनेव ने कहा कि कहा कि ”फिलहाल, कोरोना वैक्सीन ट्रायल का तीसरा और अंतिम चरण चल रहा है। परीक्षण बेहद महत्वपूर्ण है। हमें यह समझना होगा कि टीका सुरक्षित होना चाहिए। चिकित्सा पेशेवर और वरिष्ठ नागरिकों का सबसे पहले टीकाकरण किया जाएगा।”

रूस में कोरोना वायरस के  वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल  बीते 18 जून को शुरू हुआ था। इसमें 38 स्वयंसेवक शामिल थे। सभी ने सबसे पहले अपनी इम्युनिटी विकसित की। जिसके बाद पहले ग्रुप को 15 जुलाई को, दूसरे ग्रुप को 20 जुलाई को छुट्टी दी गई।

वहीं दूसरी ओर WHO का कहना है कि वह रूस के वैक्सीन कार्यक्रम से सावधान है, जिसके बारे में उन्हें कोई आधिकारिक जानकारी नहीं मिली है।

दुनियाभर में कोरोना वायरस से अबतक 1.92 करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं 7.16 लाख लोगों की मौत हुई है। और दुनियाभर में अबतक 1.16 करोड़ लोग पूरी तरह से स्वस्थ्य हो चुके हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: