मानसून की बौछार से कब भीगेगा उत्तर प्रदेश

0

उत्तर प्रदेश में मानसून निर्धारित समय से काफी पिछड़ गया है। लखनऊसहित प्रदेश के कई जिलों में उमस और गर्मी ने लोगों को बेहाल कर रखा है। बारिश की देरी का असर अब फसलों पर भी दिखाई देने लगा है।

बारिश की कमी से प्रदेश का किसान संकट में है। ये धान की रोपाई का समय है जिसकी करीब 30 फीसदी तक सूख जाने से किसानों के लिए फसल बचाना मुश्किल हो रहा है।


मौसम विभाग के मुताबिक़ लखनऊ और प्रदेश वासियों को मानसून की सामान्य बारिश के लिए करीब एक सप्ताह और इंतजार करना होगा।


इस बीच प्रदेश के बरेली से समीप बहेड़ी में सात सेंटीमीटर वर्षा रिकार्ड की गई। इसके अलावा हापुड़, पीलीभीत के बीसलपुर में छह सेंटीमीटर, झांसी में चार, बिजनौर के नजीबाबाद और मथुरा के गोवर्धन इलाके में दो सेमी तथा मेरठ में एक सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.