स्वतंत्रता दिवस पर ये शेर आपके काम आएंगे

15 अगस्त पर अक्सर लोग ढूंढते हैं ऐसी शायरी

0

भारत इस साल 15 अगस्त को अपना 74 वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है। इन सालों में भारत ने बहुत सारे बदलाव देखे पर, हर परिस्थिति में हर हालत में हम अपने स्वतंत्रता सेनानियों को याद करना नहीं भूलते। स्वतंत्रता दिवस पर अपने वतन के लिए प्यार दिखाने वाले और स्वतंत्रता सेनानियों को याद करने के लिए यह कुछ शेर…..

इसी जगह इसी दिन तो हुआ था ये एलान
अँधेरे हार गए ज़िंदाबाद हिन्दोस्तान

जावेद अख़्तर

वतन के जाँ-निसार हैं वतन के काम आएँगे
हम इस ज़मीं को एक रोज़ आसमाँ बनाएँगे

जाफ़र मलीहाबादी

भारत के ऐ सपूतो हिम्मत दिखाए जाओ
दुनिया के दिल पे अपना सिक्का बिठाए जाओ

लाल चन्द फ़लक

सारे जहाँ से अच्छा हिन्दोस्ताँ हमारा
हम बुलबुलें हैं इस की ये गुलसिताँ हमारा

अल्लामा इक़बाल

लहू वतन के शहीदों का रंग लाया है
उछल रहा है ज़माने में नाम-ए-आज़ादी

फ़िराक़ गोरखपुरी

उस मुल्क की सरहद को कोई छू नहीं सकता
जिस मुल्क की सरहद की निगहबान हैं आँखें

अज्ञात

दिल से निकलेगी न मर कर भी वतन की उल्फ़त
मेरी मिट्टी से भी ख़ुशबू-ए-वफ़ा आएगी

लाल चन्द फ़लक

वतन की ख़ाक से मर कर भी हम को उन्स बाक़ी है
मज़ा दामान-ए-मादर का है इस मिट्टी के दामन में

चकबस्त ब्रिज नारायण

उस मुल्क की सरहद को कोई छू नहीं सकता
जिस मुल्क की सरहद की निगहबान हैं आँखें

अज्ञात

मिट्टी की मोहब्बत में हम आशुफ़्ता-सरों ने
वो क़र्ज़ उतारे हैं कि वाजिब भी नहीं थे

इफ़्तिख़ार आरिफ़

दुख में सुख में हर हालत में भारत दिल का सहारा है
भारत प्यारा देश हमारा सब देशों से प्यारा है

अफ़सर मेरठी

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: