Rohini Court Firing: दिल्ली डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में सुरक्षा के लिए हाइकोर्ट में याचिका दायर

0

Rohini Court Firing:  बीते शुक्रवार को राजधानी दिल्ली (Delhi) के रोहिणी कोर्ट में हुई फायरिंग (Rohini Court Firing) के बाद हर तरफ इस घटना की चर्चा हो रही है तो वहीं अब अदालतों की सुरक्षा (security of courts) पर सवाल खड़े हो गये हैं। जिला अदालतों की पुख्ता सुरक्षा के लिए दिल्ली हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की गई है।

ये भी पढ़ें-  Pratapgarh News: गरीब कल्याण योजना के कार्यक्रम में कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं में मारपीट, जान बचा कर भागे बीजेपी सांसद

दायर याचिका में हाई कोर्ट से अधिकारियों को डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में सुरक्षा बढ़ाने के उपाय करने के निर्देश देने की अपील की गई है। दिल्ली में रोहिणी अदालत कक्ष के अंदर एक दिन पहले हुई गोलीबारी में तीन गैंगस्टरों के मारे जाने और एक विधि प्रशिक्षु के घायल होने के बाद यह याचिका दायर की गई।

Rohini Court Firing

Rohini Court Firing: गोलीबारी की घटना पर प्रधान न्यायाधीश ने जताई थी गहरी चिंता

शुक्रवार को प्रधान न्यायाधीश एन. वी. रमण ने रोहिणी अदालत में गोलीबारी की घटना पर गहरी चिंता जताई। इस बारे में दिल्ली हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश डी. एन. पटेल से बात की। उन्हें अदालत का कामकाज प्रभावित नहीं होने देने को सुनिश्चित करने के लिए पुलिस और बार, दोनों से बातचीत करने की सलाह दी थी। इस बीच वकीलों के एक समूह ने दिल्ली हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश पटेल को एक पत्र भेज कर यहां जिला अदालतों में सुरक्षा प्रबंधों के मुद्दे पर संज्ञान लेने का अनुरोध किया है।

Rohini Court Firing: अदालत परिसर में प्रवेश करने वालों के परिचय पत्र की होगी जांच

दायर की गई याचिका के माध्यम से दिल्ली पुलिस और बार काउंसिल ऑफ दिल्ली को कोर्ट के प्रवेश द्वार पर सभी पुलिसकर्मियों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश देने का अनुरोध किया गया है कि वे अदालत परिसर में प्रवेश करने वाले हर एक व्यक्ति से गहन पूछताछ कर उनके परिचय पत्र की जांच करें।

Rohini Court Firing: एक दिन पहले कोर्ट रूम में हुई थी गोलीबारी, मारे गए तीन गैंगस्टर

शुक्रवार को राजधानी दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में दिनदहाड़े फायरिंग की वारदात हुई थी। इस फायरिंग में कुख्यात बदमाश गोगी मारा गया है। पुलिस ने भी बदमाशों की फायरिंग का जवाब दिया और दोनों को मार गिराया। रोहिणी कोर्ट में दो हथियारबंद बदमाश वकील के वेश में आए थे और इसके चलते ही उन्हें पहचाना नहीं जा सका।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.