फेसबुक विवाद पर सियासत तेज, राहुल ने किया सरकार का घेराव

ट्वीट कर साझा की जुकरबर्ग को भेजी चिट्ठी

0
फेसबुक(Facebook) विवाद पर देश में सियासत तेज हो गई है। राहुल गांधी(Rahul Gandhi) ने केंद्र सरकार और आरएसएस का घेराव किया है। उन्होंने ट्वीट के जरिए फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग को भेजी चिट्ठी साझा की। उनका कहना है कि लोकतंत्र(Democracy) को नुकसान नहीं पहुंचने देंगे।

आपको बता दें कि फेसबुक विवाद पर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उनका कहना है कि फेक न्यूज़, हेट स्पीच और पक्षपात के जरिए मेहनत से पाए गए लोकतंत्र को नुकसान नहीं पहुंचने देंगे। उन्होंने अमेरिकी अखबार वॉल स्ट्रीट जनरल के खुलासे पर हर भारतीय को सवाल पूछने की सलाह दी है।

इससे पहले अमेरिकी अखबार वॉल स्ट्रीट जनरल की रिपोर्ट का हवाला देते हुए राहुल ने ट्वीट किया। इसके साथ उन्होंने फेसबुक के सीईओ को लिखें पत्र को भी साझा किया।

राहुल का कहना है कि बीजेपी और आरएसएस का भारत में फेसबुक और व्हाट्सएप पर कब्जा है। वे इसके जरिए फेक न्यूज़ और नफरत फैलाने का काम करते हैं। साथ ही वह इसका इस्तेमाल मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए भी करते हैं।

आपको बता दें कि यह मामला सियासी रंग तब लिया जब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने फेसबुक पर पोस्ट किया। अपने पोस्ट में उन्होंने लिखा कि फेसबुक आम जनमानस की अभिव्यक्ति का सरल माध्यम है। जबकि इसका इस्तेमाल बीजेपी के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने भ्रामक जानकारी और नफरत फैलाने के लिए किया है। इतना ही नहीं फेसबुक कोई कार्यवाही ना कर पाए इसके लिए बीजेपी ने फेसबुक के अधिकारियों से सांठगांठ भी की है।

राहुल गांधी ने ट्वीट कर साझा की चिट्ठी में लिखा है कि पूरे मामले की फेसबुक उच्चस्तरीय जांच कराएं। उन्होंने यह चिट्ठी फेसबुक के सीईओ  मार्क जुकरबर्ग को मेल के जरिए पहुंचाई है। उनकी मांग है कि फेसबुक के भारतीय शाखा के संचालन की जिम्मेदारी नई टीम को सौंपी जाए ताकि जांच की प्रक्रिया प्रभावित ना हो सके।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: