New Driving Licence Rule 2021: केंद्र सरकार ने ड्राइविंग लाइसेंस को लेकर किए बदलाव

New Driving Licence Rule 2021: अब नहीं देना होगा RTO जाकर ड्राइविंग टेस्ट

0

New Driving licence rule 2021: अगर आपको अपना ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना है तो अब आपको इसके लिए रीजनल ट्रांसपोर्ट ऑफिस (RTO) जाने की कोई जरूरत नहीं है। अब आपको ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए RTO की वेटिंग लिस्ट का इंतजार नहीं करना होगा। बता दें, ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के नियमों में केंद्र सरकार ने कुछ अहम बदलाव किया है। जिसके तहत अब रीजनल ट्रांसपोर्ट ऑफिस जाकर DL बनवाने के लिए किसी तरह का कोई ड्राइविंग टेस्ट नहीं देना होगा। बता दें, केंद्रीय सड़क परिवहन और हाईवे मंत्रालय ने इन नियमों को नोटिफाई भी कर दिया है। बदले हुए नए नियम इसी माह से लागू भी कर दिए गए हैं।

New Driving Licence Rule 2021: ट्रेनिंग स्कूल ही बन जाएगा ड्राइविंग लाइसेंस

New Driving Licence Rule 2021:

केंद्रीय सड़क परिवहन और हाईवे मंत्रालय ने ये साफ कर दिया है कि अब एप्लीकेंट्स को ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए RTO ना जा कर किसी भी मान्यता प्राप्त ड्राइविंग ट्रेनिंग स्कूल में अपना रजिस्ट्रेशन करवाना होगा। रजिस्ट्रेशन  के बाद एप्लीकेंट को उसी ड्राइविंग ट्रेनिंग स्कूल से ट्रेनिंग लेनी होगी और वहीं पर ड्राइविंग टेस्ट भी पास करना होगा, इस टेस्ट को पास करने के बाद स्कूल की ओर से एप्लीकेंट्स को एक सर्टिफिकेट दिया जाएगा। जिसके आधार पर एप्लीकेंट का ड्राइविंग लाइसेंस बन जाएगा।

सड़क और परिवहन मंत्रालय की ओर से ड्राइविंग ट्रेनिंग सेंटर्स के लिए भी कुछ गाइडलाइन जारी की गई है। जिसका पालन करना सभी ट्रेनिंग सेंटर्स के लिए अनिवार्य होगा। जारी किए गए नियमों के मुताबिक दोपहिया, तिपहिया और हल्के मोटर वाहनों के ट्रेनिंग सेंटर्स के पास कम से कम एक एकड़ जमीन साथ ही भारी यात्री माल वाहनों या ट्रेलरों के लिए दो एकड़ जमीन होना अनिवार्य है। ट्रेनर का कम से कम इंटरमिडिएट की परिक्षा पास किया हो। और ट्रेनर को ड्राइविंग का 5 साल का अनुभव हो।

इतना ही नहीं मंत्रालय ने हल्के मोटर वाहन चलाने के लिए एक माह का पाठ्यक्रम भी तय किया है। जो दो भाग में पूरे किए जाएगें। जिसमें प्रैक्टिकल और थ्योरी दोनो शामिल है। थ्योरी में जहां रोड शिष्टाचार को समझना, रोड रेज, ट्रैफिक शिक्षा, दुर्घटनाओं के कारणों को समझना, प्राथमिक चिकित्सा और ड्राइविंग ईंधन दक्षता शामिल है, तो वहीं प्रैक्टिकल में ग्रामीण सड़कों, राजमार्गों, शहर की सड़कों, रिवर्सिंग और पार्किंग, चढ़ाई और डाउनहिल ड्राइविंग पर गाड़ी चलाना सीखना होगा।

ये भी पढ़ें-   Reliance Jio Cheapest Prepaid Plan: जियो ने पेश किया सबसे सस्ता प्रीपेड प्लान

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.