इस शारदीय नवरात्र में बदल गई मां दुर्गा की सवारी, जानिये क्या है वजह

इस साल यानी कि साल 2020 के शारदीय नवरात्रि की कलश स्थापना शनिवार हो रही है इसलिये इस बार मां दुर्गा का वाहन घोड़ा है।  

0

नवरात्र स्पेशल: यूं तो मां दुर्गा का वाहन सिंह को माना जाता है, लेकिन हर साल नवरात्रि के समय तिथि के अनुसार माता अलग-अलग वाहनों पर सवार होकर धरती पर आती हैं। यानी माता सिंह की बजाय दूसरी सवारी पर सवार होकर भी पृथ्वी पर आती हैं।

इस संदर्भ में शास्त्रों में कहा गया है कि ‘शशिसूर्ये गजारूढ़ा शनिभौमे तुरंगमे। गुरौ शुक्रे च दोलायां बुधे नौका प्रकी‌र्त्तिता’ इसका अर्थ है सोमवार और रविवार को प्रथम पूजा यानी कलश स्थापना होने पर मां दुर्गा हाथी पर आती हैं।

शनिवार और मंगलवार को कलश स्थापना होने पर माता का वाहन घोड़ा होता है। गुरुवार या शुक्रवार के दिन कलश स्थापना होने पर माता डोली पर चढ़कर आती हैं। बुधवार के दिन कलश स्थापना होने पर माता नाव पर सवार होकर आती हैं।

और इस साल यानी कि साल 2020 के शारदीय नवरात्रि की कलश स्थापना शनिवार हो रही है इसलिये इस बार मां दुर्गा का वाहन घोड़ा है।

 

 

सचिन पांडे, ज्योतिषाचार्य

शिव मंदिर, भाटिया बस्ती चौक, कदमा

जमशेदपुर, झारखंड

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: