दुनिया में अमन और चैन की दुआ के साथ पूरी हो रही हैं हज की रस्में

0

सऊदी के शहर मक्का में जारी हज की ख़ास रस्मे आज अदा की जाएँगी। दुनिया भर से यहाँ जमा होने वाले हाजियों ने रात सऊदी के शहर मिना में गुज़ारी।

इस दौरान सभी हाजी इबादत (पूजा) तिलावत (पाठ) और अस्तग़फ़ार (क्षमा) की प्रार्थना करते रहे। फज्र की नमाज के बाद श्रद्धालु अराफात चौक के लिए रवाना हुए। दुनिया भर से जमा हाजियों ने इस पवित्र मौके पर दुनिया और परलोक की सलामती के साथ अमन और चैन की दुआएं मांगी।

इस हज के मौके पर तकरीबन दस लाख से अधिक तीर्थयात्री यहाँ जमा हुए हैं। आज दोपहर हज की बाक़ी रस्में भी पूरी कर ली जाएँगी।

हाजी सूरज डूबने के वक़्त जिसे यानी मग़रिब की अज़ान से पहले मुज़दलिफ़ा के लिए अराफ़ात स्क्वायर से निकलेंगे, जहाँ वे ईशा की नमाज़ के दौरान मग़रिब और ईशा की नमाज़ एक साथ अदा करेंगे।

तीर्थयात्री मुजदलिफा में रात भर रुकेंगे और रामी के लिए कंकड़ इकट्ठा करेंगे और फज्र की नमाज अदा करने के बाद ये लोग शैतान पर पत्थर फेंकने के लिए छोटे पत्थर जमा करेंगे। इसके बाद ये लोग कुर्बानी का फ़र्ज़ अदा करेंगे और फिर अपना एहराम उतारेंगे। इसके साथ ही हज की बाक़ी रस्मे पूरी हो जाएँगी और दुनिया भर के लोगों की वापसी का सिलसिला शुरू होगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.