छावनी में तब्दील हुई अयोध्या, कोरोना प्रोटोकॉल भी लागू

4 अगस्त की शाम से अयोध्या में नहीं मिलेगा प्रवेश

0

अयोध्या: वर्षों के इंतजार के बाद आखिरकार वो घड़ी आ ही गई है जब अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण होने वाला है। खुद प्रधानमंत्री मोदी राम मंदिर निर्माण के लिए 5 अगस्त को होने वाले भूमि पूजन समारोह में शामिल हो रहे हैं। पूरी अयोध्या राममय हो गई है लेकिन कोरोना के बढ़ते प्रकोप एवं पीएम की सुरक्षा को देखते हुए पूरी अयोध्या को छावनी में तब्दील कर दिया गया है।

डीआईजी दीपक कुमार के मुताबिक प्रधानमंत्री की सुरक्षा को लेकर तमाम एजेंसियों के साथ बैठक हुई है। सुरक्षा के सभी मानक पूरे किए जा रहे हैं। कोविड प्रोटोकॉल के तहत अयोध्या में 5 अगस्त को एक साथ एक जगह 5 लोगों से ज्यादा को जुटने नहीं दिया जाएगा।

दीपक कुमार ने वीवीईपी मूवमेंट पर कहा, ‘जितने भी वीवीआईपी आएंगे या फिर जितने भी आमंत्रित मेहमान आएंगे उन सबकी सुरक्षा के इंतजाम किए जा रहे हैं। सुरक्षा को लेकर हम पूरी तरीके से चाक-चौबंद हैं। चाहे मेहमान हों, वीवीआईपी हों या फिर आम अयोध्यावासी सभी को पूरी सुरक्षा दी जाएगी।’

सुरक्षा के होंगे खास इंतजाम

प्रधानमंत्री मोदी के दौरे को देखते हुए अयोध्या को चारों तरफ से सील करने किया जाएगा।  अयोध्या सहित फैजाबाद शहर में प्रवेश के सभी रास्तों पर पूर्व में किए इंतजामों की निगरानी हो रही है। 4 अगस्त की शाम से अयोध्या  में किसी को भी प्रवेश की इजाजत नहीं होगी।बस्ती, गोंडा, अंबेडकरनगर, बाराबंकी के अलावा सुलतानपुर, अमेठी आदि में पहले ही नोडल अधिकारियों की नियुक्ति की जा चुकी है। ये अधिकारी इन जिलों के बॉर्डर पर कड़ी निगरानी रखेगी।

जल मार्गों पर भी सुरक्षा एजेंसियों की कड़ी नजर रहेगी इसके लिए जल पुलिस की तैनाती की गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.