पंजाब में 6 साल की बच्ची से दुष्कर्म के बाद हत्या पर बोले जावडेकर-राहुल गांधी क्यों नहीं गए?

जावड़ेकर ने कहा कि न तो अब तक राहुल और सोनिया गांधी टांडा गए हैं और न ही प्रियंका पीड़ित परिवार से मिलने पहुंची हैं। वह अपनी पार्टी द्वारा शासित प्रदेशों में महिलाओं पर हो रहे अत्याचारों पर कोई ध्यान नहीं देते लेकिन हाथरस जैसी अन्य जगहों पर फोटो खिंचाने के लिए पहुंच जाते हैं।

0

चंडीगढ: पंजाब के होशियारपुर के टांडा गांव में 6 साल की बच्ची से दुष्कर्म के बाद हत्या की घटना अब सियासी पार्टियों ने रोटियां सेंकना शुरु कर दिया हैं। इस घटना पर जहां कांग्रेस चुप्पी साधे बैठी है तो वहीं केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने राहुल गांधी, सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी को आड़े हाथों लिया है। उनका कहना है कि कांग्रेस पार्टी अपने द्वारा शासित राज्यों में महिलाओं के साथ हो रहे अपराधों पर तो चुप्पी साधे रहती है और दूसरे राज्यों में फोटो खिंचाने के लिए पहुंच जाती है।

पीड़ित परिवार से क्यों नहीं मिले राहुल, प्रियंका

प्रकाश जावड़ेकर ने कांग्रेस आलाकमान पर सख्य लहजे में नाराजगी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि पंजाब के होशियारपुर के टांडा गांव में एक अनुसूचित जाति की 6 साल की बच्ची के साथ दुष्कर्म के बाद हत्या की घटना बहुत चौंकाने वाली है। राहुल गांधी को राजनीतिक पार्टियों में जाने के बजाय पंजाब के टांडा और राजस्थान जाकर पीड़ित महिलाओं और उनके परिवार से मिलना चाहिए।

जावड़ेकर ने कहा कि न तो अब तक राहुल और सोनिया गांधी टांडा गए हैं और न ही प्रियंका पीड़ित परिवार से मिलने पहुंची हैं। वह अपनी पार्टी द्वारा शासित प्रदेशों में महिलाओं पर हो रहे अत्याचारों पर कोई ध्यान नहीं देते लेकिन हाथरस जैसी अन्य जगहों पर फोटो खिंचाने के लिए पहुंच जाते हैं।

छह साल की बच्ची के शव का शुक्रवार को गांव में अंतिम संस्कार किया गया। गांव के कब्रिस्तान में अंतिम संस्कार के मौके पर बड़ी संख्या में अलग-अलग राजनीतिक और धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधि पहुंचे। सभी आरोपियों के लिए सख्त सजा की मांग कर रहे थे। कब्रिस्तान में कड़ी सुरक्षा के बीच भारी संख्या में लोगों की उपस्थिति में बच्ची का अंतिम संस्कार किया गया।

आरोपियों के घर के बाहर प्रदर्शन

इससे पहले बच्ची का शव जब गांव पहुंचा तो लोगों में गुस्सा फूट पड़ा और आरोपियों के घर के बाहर इकट्ठे होकर रोष प्रदर्शन किया। आरोपियों के घर के बाहर नारेबाजी करते हुए लोगों ने इस मामले में गिरफ्तार आरोपियों को फांसी देने की मांग की। इस दौरान पुलिस बल ने स्थिति को तनावपूर्ण होने से रोक लिया और प्रदर्शनकारियों को समझा बुझाकर शांत किया। वहीं आरोपियों के घर पर पथराव किए जाने की भी सूचना थी लेकिन डीएसपी दलजीत सिंह ने पथराव या किसी किस्म की तोड़फोड़ से इंकार किया।

क्या था मामला

पंजाब के होशियारपुर जिले के एक गांव की हवेली से बीते बुधवार देर शाम प्रवासी मजदूर की छह साल बच्ची का अधजला शव बरामद हुआ था। टांडा पुलिस ने युवक सुरप्रीत सिंह और उसके दादा सुरजीत सिंह को बच्ची से दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या के मामले में गिरफ्तार किया है। बता दें कि बुधवार को 6 वर्षीय बच्ची का अधजला शव एक गांव की हवेली से बरामद हुआ था। मामले में पिता ने दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका जताई थी।

जानकारी के अनुसार बिहार निवासी मजदूर ने थाना टांडा में दी शिकायत में कहा है कि युवक सुरप्रीत सिंह बुधवार को दोपहर उनकी 6 साल की बेटी को बिस्कुट देने के बहाने ले गया था और उसके बाद वह घर नहीं लौटी। देर शाम उसका अधजला शव गांव के ही एक आढ़ती की हवेली से मिला। टांडा पुलिस ने धारा 302, 376, 201 और पॉक्सो अधिनियम के तहत केस दर्ज कर मुख्य आरोपी सुरप्रीत सिंह और उसके दादा सुरजीत सिंह को गुरुवार को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया गया। अदालत ने दोनों को दो दिन के रिमांड पर भेजा है।

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: