वोडाफोन ने भारत के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में जीता केस, जानें क्या है पूरा मामला

ब्रिटेन की लोकप्रिय टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन ने इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस में भारत के खिलाफ 2000 करोड़ टैक्स के एक केस में जीत दर्ज की है।

0

वर्तमान दौर में कर्ज के संकट से जूझ रही ब्रिटेन के दिग्गज टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन ( Vodafone) के लिए एक राहत भरी खबर है। कंपनी ने भारत के खिलाफ इंटरनेशनल कोर्ट ऑफ जस्टिस( International court of justice) में दो हजार करोड़ के टैक्स के एक केस में जीत दर्ज की है।

वोडाफोन कंपनी ने शुक्रवार को कहा कि अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने भारतीय टैक्स अथॉरिटीज की ओर से की गई 20,000 करोड़ रुपये के रेट्रोस्पेक्टिव टैक्स( Retrospective tax) की मांग को गलत करार दिया है। मामले में सुनवाई कर रही मध्यस्थता न्यायालय ने कहा कि ऐसा करना समान व्यवहार के नीति के खिलाफ है ।

 

 क्या है पूरा मामला

साल 2012 में भारत की सरकार द्वारा एक कानून को मंजूरी दी गई थी। इस कानून के तहत भारत सरकार वर्ष 2007 में वोडाफोन की ओर से किए गए हच एस्सार के अधिग्रहण की डील पर टैक्स वसूल कर सकती थी। इसी कानून के तहत भारत सरकार ने वोडाफोन को 12 हजार करोड़ का बकाया रेट्रोस्पेक्टिव टैक्स और 7900 करोड का जुर्माना चुकाने का नोटिस दिया था।

इसके बाद कंपनी ने वर्ष 2016 में अन्तर्राष्ट्रीय न्ययालय का दरवाजा खटखटाया था जहां अब उसे जीत मिल गई है ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: