UP Government Basic Education: योगी सरकार की नई पहल, स्कूल में एक ही परिवार की दो में से एक लड़की की फीस होगी माफ

UP Government Basic Education: बेसिक शिक्षा विभाग अब इस दिशा कर रहा है काम

0

UP Government Basic Education: बेटियों की शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार लगातार प्रयासरत है। इसलिए बेसिक शिक्षा विभाग अब इस दिशा की ओर तेजी से काम कर रहा है। बता दें, इसके लिए बेसिक शिक्षा विभाग राज्य सरकार के वित्तीय भार के आकलन के लिए आंकड़े खंगालने शुरू कर दिए हैं, जिससे आने वाले दिनों में उत्तर प्रदेश के स्कूलों में एक ही स्कूल में पढ़ने वाली दो लड़कियों में से एक की फीस माफ की जा सके।

UP Government Basic Education
UP Government Basic Education

UP Government Basic Education: 2021अक्टूबर में हुआ था योजना का ऐलान

UP Government Basic Education
UP Government Basic Education

Coronavirus Vaccination Update: कम हो रहे हैं कोरोना के केस, देश में 80% वयस्क आबादी को लगी कोरोना वैक्सीन

आपको बता दें, बीते साल 2021 में अक्टूबर के महीने में इस बात का ऐलान खुद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया था जिसके मुताबिक एक संस्था में एक से अधिक बच्चियां पढ़ रही हों तो दूसरी बच्ची की फीस माफ किया जाए। इसके साथ ही ये भी कहा गया था कि एक बच्ची की फीस माफी की भरपाई संस्थान उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से की जाएगी। राज्य सरकार के इस योजना का लाभ केवल उन्हीं परिवारों को मिलेगा जिनक आय सराकार द्वारा कय की गई सीमा से कम है।

UP Government Basic Education: बेसिक शिक्षा विभाग को नोडल विभाग बनाया गया

 

आपको बता दें, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस ऐलान के बाद से ही इसे अमल में लाने का प्रयास लगातार जारी है। जिसके तहत बेसिक शिक्षा विभाग को नोडल विभाग बनाया गया है। नोडल विभाग ने सभी बीएसए को लिखित रूप से पत्र भेजकर कहा गया है कि अगर किसी भी स्कूल में एक ही परिवार की दो बच्चियां एक ही स्कूल में पढ़ रही है तो उनकी संख्या जुटाई जाए, और उन आंकड़ों को तुरंत लिए बेसिक शिक्षा विभाग भेजा जाए।

UP Government Basic Education: लड़कियों की होगी फीस माफ

UP Government Basic Education
UP Government Basic Education

आपको बता दें, इससे पहले लड़कियों की फीस माफी जैसी योजनाएं पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग, समाज कल्याण और अल्पसंख्यक विभाग चालाया करते थे। उत्तर प्रदेश सरकार की इस नई योजना को भी पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग, समाज कल्याण और अल्पसंख्यक विभाग के जरिए ही चलाया जाएगा। जिसे माध्यमिक शिक्षा विभाग, प्राविधिक शिक्षा विभाग के साथ साथ उच्च शिक्षा विभाग में लागू की जाएगी।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.