UP Election 2022: सपा की रैली में भीड़ जुटाकर कोरोना नियम तोड़ने पर चुनाव आयोज ने जारी किया नोटिस, 24 घंटों में देना होगा जवाब

0

UP Election 2022:  लखनऊ समाजवादी पार्टी के कार्यालय (SP Office) में कोरोना के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करने के मामले में चुनाव आयोग ने सपा को नोटिस जारी किया है। चुनाव आयोग (up assembly election 2022) सपा को ने चौबीस घंटे के अंदर इस मामले में स्पष्टीकरण देने को कहा है। बता दें कि लखनऊ स्थित सपा कार्यालय में सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने रैली का आयोजन किया था।

UP Election 2022
सपा कार्यालय में रैली का आयोजन

रैली में कोरोना दिशा-निर्देशों (Corona Protocol) के उल्लंघन के मामले में लखनऊ के गौतमपल्ली थाना प्रभारी दिनेश सिंह बिष्ट को 14 जनवरी को निलंबित कर दिया गया था। लखनऊ डीएम के रिपोर्ट के आधार पर चुनाव आयोग ने कोरोना दिशा-निर्देशों के उल्लंघन करने के मामले को संज्ञान लिया है। चुनाव आयोग (Election Commission) ने सपा को नोटिस जारी कर मामले पर जवाब मांगा है।

UP Election 2022- चुनाव आयोग ने भीड़ जुटाने पर सपा को भेजा नोटिस

लखनऊ समाजवादी पार्टी कार्यालय में अखिलेश यादव ने बीजेपी छोड़कर आए पूर्व मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य, धर्म सिंह सैनी, भगवती सागर आदि के समाजवादी पार्टी में शामिल होने के अवसर पर एकत्र विशाल जनसमुदाय को सम्बोधित किया। इस रैली (up assembly election 2022) में करीब 250 लोग शामिल हुए थे। यूपी चुनाव आयोग ने सपा कार्यालय में भारी भीड़ जुटाने के मामले को संज्ञान में लिया। चुनाव आयोग ने इसे इसे कोरोना प्रोटोकॉल (Corona Protocol) और आचार संहिता का उल्लंघन माना है।

ये भी पढ़ें-Gorakhpur Vidhan sabha Chunav: योगी आदित्यनाथ अयोध्या नहीं गोरखपुर से लड़ेंup assembly election 2022गे विधान सभा चुनाव

भारतीय चुनाव आयोग ने चुनाव आचारसंहिता को लागू करते हुए कोरोना बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए फिजिकल रैली पर रोक लगाई है। चुनाव आयोग ने डिजिटल रैली करने और डोर टू डोर सिर्फ 5 लोगों को प्रचार करने की अनुमति दी है। चुनाव आयोग के आदेश को अनसुना कर के सपा कार्यालय में रैली का आयोजन किया गया था। बता दें कि बीजेपी के बागी नेताओं को पार्टी में शामिल कराने के दौरान भीड़ इकट्ठा करने के मामले में लखनऊ पुलिस ने पहले ही पार्टी कार्यालय में नोटिस चिपकाया है।

UP Election 2022- सपा कार्यालय में कोरोना प्रोटोकॉल और आचार संहिता का उल्लंघन

समाजवादी पार्टी कार्यालय लखनऊ में अखिलेश यादव ने बीजेपी छोड़कर आए नेताओं के समाजवादी पार्टी में शामिल होने के अवसर पर जमा भीड़ को सम्बोधित करते हुए कहा कि समाजवादी और अम्बेडकरवादी मिलकर उत्तर प्रदेश में 400 सीटे जीतने का काम करेंगे। समाजवादी पार्टी वर्चुअल, डिजिटल और फिजकल हर तरह से तैयार हैं। अब साइकिल की रफ्तार कोई नहीं रोक पाएगा। हमारे पास कार्यकर्ताओं की ताकत है।

UP Election 2022
स्वामी प्रसाद सहित अन्य नेताओं ने औपचारिक रूप से थामा अखिलेश का हांथ

UP Election 2022- भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश को बर्बाद कर दिया है अखिलेश यादव

अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार ने उत्तर प्रदेश को बर्बाद कर दिया है। इस सरकार की कोई उपलब्धि नहीं है। भाजपा सरकार ने डीजल-पेट्रोल और गैस सिलेण्डर महंगा करके कम्पनियों की तिजोरी भरी है। किसानों को दोगुनी आय का झूठा वादा किया। उसकी फसल की खरीद नहीं हुई। खाद की बोरी से 5 किलो की चोरी कर ली। नौजवान को नौकरी मांगने पर लाठियां मिली।

अखिलेश यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री जी फेल हो चुके हैं। कितने भी दिल्ली वाले आ जाएं उन्हें पास नहीं करा पाएंगे। समाजवादी पार्टी के साथ 80 प्रतिशत खड़े हैं अब 20 फीसदी भी आ गए हैं। भाजपा नेता तीन चौथाई नहीं तीन या चार सीट की बात कर रहे है। उन्होंने कहा कि साइकिल का हैंडल और पहिए ठीक हैं इसकी रफ्तार रुकने वाली नहीं, वह बहुत तेज चलेगी।

UP Election 2022

स्वामी प्रसाद मौर्य से बीजेपी छोड़ कर आधिकारिक रूप से समाजवादी पार्टी में शामिल होते हुए कहा कि अखिलेश यादव ऊर्जावान, नौजवान और प्रगतिशील विचारों के हैं। उनके साथ मिलकर क्रांति करूंगा। आज का दिन दलितों, पिछड़ों के सम्मान का दिन है। भाजपा ने धोखा दिया है। उसे इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी। वह फिर 2017 की स्थिति में पहुंच जाएगी। स्वामी प्रसाद ने कहा कि लोहिया जी के समाजवाद और अंबेडकरवाद को बचाना हमारा पहला कर्तव्य है। हमने भाजपा को उखाड़ फेंकने का संकल्प लिया है। मकर संक्रांति पर भाजपा के अंत का इतिहास लिखने जा रहा है।

चुनाव संबंधित महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.