यूपी का बजट गरीबी से घिरे राज्य के लिये अंधे कुएं के समान है

0

लखनऊ, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने उत्तर प्रदेश सरकार के गुरुवार को पेश किये गये बजट को ‘घिसापिटा एवं अविश्वसनीय’ बताते हुए कहा है कि गरीबी और बेरोजगारी से घिरे राज्य के लिये यह बजट किसी ‘अंधे कुएं’ के समान है।

मायावती ने उप्र के वित्त मंत्री सुरेश खन्ना द्वारा विधान सभा में बजट पेश किये जाने के बाद इस पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा, “यूपी सरकार का बजट प्रथम दृष्टया वही घिसापिटा व अविश्वनीय तथा जनहित एवं जनकल्याण में भी खासकर प्रदेश में छाई हुई गरीबी, बेरोजगारी व गड्ढायुक्त बदहाल स्थिति के मामले में अंधे कुएं जैसा है, जिससे यहाँ के लोगों के दरिद्र जीवन से मुक्ति की संभावना लगातार क्षीण होती जा रही है।”

उन्होंने बजट पर सोशल मीडिया के माध्यम से जारी प्रतिक्रिया में कहा, “यूपी के करोड़ों लोगों के जीवन में थोड़े अच्छे दिन लाने के लिए कथित डबल इंजन की सरकार द्वारा जो बुनियादी कार्य प्राथमिकता के आधार पर होने चाहिए थे, वे कहाँं किए गए। स्पष्टतः नीयत का अभाव है तो फिर वैसी नीति कहाँ से बनेगी। जनता की आँख में धूल झोंकने का खेल कब तक चलेगा?”

गौरतलब है कि खन्ना ने वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिये प्रदेश का 6.15 लाख करोड़ रुपये केे अनुमानित व्यय वाला बजट प्रस्ताव विधान मंडल के दोनों सदनों में पेश किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.