यूपी: पुलिस अकादमी के सिलेबस में शामिल हो सकता है बहुचर्चित बिकरू हत्याकांड

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार, आईपीएस और पीपीएस अधिकारियों के प्रशिक्षण और सिलेबस को बेहतर बनाने के लिए गठित एक समिति ने सुझाव दिया है कि पाठ्यक्रम में विकास दुबे केस को शामिल किया जाना चाहिए।

0

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार बहुचर्चित बिकरू हत्याकांड को राज्य के पुलिस अकादमी के सिलेबस में शामिल करने की योजना बना रही है।

इस हत्याकांड को गैंग्सटर विकास दुबे और उसके सहयोगियों ने 3 जुलाई को अंजाम दिया था। इस घटना को अन्य आपराधिक मामलों के साथ पुलिसकर्मियों के लिए एक सबक के रूप में सिलेबस में शामिल किया जा सकता है।

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार, आईपीएस और पीपीएस अधिकारियों के प्रशिक्षण और सिलेबस को बेहतर बनाने के लिए गठित एक समिति ने सुझाव दिया है कि पाठ्यक्रम में विकास दुबे केस को शामिल किया जाना चाहिए।

अधिकारी ने कहा, विकास दुबे के घर रेड ने स्थानीय पुलिस की कई कमियों को उजागर किया, जिस वजह से आठ पुलिसकर्मियों की मौत हो गई थी। पुलिस को रेड से पहले तैयारी करनी चाहिए थी और गैंग्सटर के घर मौजूद लोगों और हथियारों की जानकरी इकट्ठी करनी चाहिए थी। भविष्य में, पुलिस अधिकारियों को इस घटना से सबक लेने की जरूरत है।

यहां तक कि, विकास दुबे गांव में एक क्रिमिनल गैंग चला रहा था और स्थानीय पुलिस को इस बारे में जानकारी नहीं थी। पुलिस अधिकारी ने कहा कि इस घटना को देखते हुए हमें सूचना नेटवर्क को मजबूत करने की जरूरत है।

सिलेबस में ज्योति हत्याकांड को शामिल करने का भी सुझाव दिया गया है। वर्ष 2014 में हुए इस हत्याकांड में पति ने अपनी गर्लफ्रैंड के लिए पत्नी की हत्या कर दी थी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: