UGC: अंतिम वर्ष की परीक्षाओं को लेकर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज

इससे पहले 14 अगस्त को हुई थी सुनवाई

0

देशभर के विश्वविद्यालयों (Universities) एवं उच्च शिक्षण संस्थानों स्नातक (Graduation) एवं परास्नातक (Masters) पाठ्यक्रमों के Last year या semester की परीक्षाओं को 30 सितंबर तक करा लेने के विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) के निर्देशों को चुनौती देने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में आज 18 अगस्त 2020 को फिर सुनवाई होनी है।
बता दें इससे पहले मामले की सुनवाई 14 अगस्त को हुई थी। सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अशोक भूषण (Ashok Bhushan) की अध्यक्षता वाली खंडपीठ यूजीसी गाइडलाइंस मामले में सुनवाई कर रही है जिसमें यूजीसी एवं सरकार का पक्ष सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता (Tushar Mehta) रख रहे हैं जबकि छात्रों का पक्ष वरिष्ठ अधिवक्ता डॉ अभिषेक मनु सिंघवी (Abhishek manu Singhvi) रख रहे हैं। वहीं इसी मामले से संबंधित युवा सेना के एक अन्य मामले में छात्रों का पक्ष अधिवक्ता श्याम दीवान (Shyam Divan) रख रहे हैं।

क्या हुआ था पिछली सुनवाई के दौरान

अंतिम वर्ष की परीक्षाओं के लिए यूजीसी गाइडलाइंस मामले की पिछली सुनवाई के दौरान डॉ. अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि जब संस्थान कक्षाएं आयोजित कर पा रहे हैं तो परीक्षाओं का आयोजन कैसे करेंगे। साथ ही, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सभी शिक्षण संस्थानों को 31 अगस्त 2020 तक बंद रखने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि सामान्य हालात में कोई भी परीक्षाओं के विरोध में नहीं है। हम महामारी के बीच परीक्षाओं का विरोध कर रहे हैं। वहीं, अधिवक्ता श्याम दीवान ने कहा कि जब यूजीसी स्वयं कहता है कि ये यदि एडवाइजरी है तो इसे स्थानीय जरूरतों के हिसाब से बदला भी जा सकता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: