फ्रंटलाइन वर्कर्स के बाद स्कूली बच्चों को मिल सकती है कोरोना वैक्सीन

दिल्ली में स्कूल खोले जाने में अभी कुछ और वक्त लग सकता है। प्राथमिकता के आधार पर दिल्ली सरकार 51 लाख लोगों को सबसे पहले कोरोना वैक्सीन लगाएगी।

0

नई दिल्ली: दिल्ली में स्कूल खोले जाने में अभी कुछ और वक्त लग सकता है। प्राथमिकता के आधार पर दिल्ली सरकार 51 लाख लोगों को सबसे पहले कोरोना वैक्सीन लगाएगी। इसके उपरांत दिल्ली में बच्चों को कोरोना वैक्सीन दी जाएगी। बच्चों से पहले यह कोरोना वैक्सीन, फ्रंटलाइन वर्कर्स को उपलब्ध कराई जाएगी।

दिल्ली सरकार के शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक इन सब तैयारियों के मद्देनजर स्कूल खोलने में अभी 6-7 महीने का समय और लग सकता है। इसके साथ ही दिल्ली सरकार इस वर्ष नर्सरी दाखिले भी स्थगित करने की योजना पर काम कर रही है।

दरअसल विभिन्न अभिभावक संगठनों ने दिल्ली और केंद्र सरकार से मांग की है कि जब तक कोरोना वैक्सीन न आ जाए, तब तक स्कूल नहीं खोले जाने चाहिए। अखिल भारतीय अभिभावक संघ के अध्यक्ष अशोक अग्रवाल ने कहा, बच्चों की सुरक्षा बेहद आवश्यक है, सरकार को इस पूरे शैक्षणिक वर्ष को जीरो ईयर ईयर घोषित करना चाहिए। बच्चों की पूरी सुरक्षा सुनिश्चित होने पर ही स्कूल खोले जाने चाहिए।

अभिभावकों द्वारा उठाई गई मांगों के मद्देनजर दिल्ली सरकार, दिल्ली में सभी बच्चों को वैक्सीन उपलब्ध कराने की योजना पर काम कर रही है। स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के मुताबिक सरकार की सबसे पहली प्राथमिकता स्वास्थ्य कर्मी और फ्रंटलाइन योद्धाओं को वैक्सीन देने की है। उसके बाद बुजुर्ग और सभी बच्चों को वैक्सीन दी जाएगी। इसके बाद सारी दिल्ली का वैक्सीनेशन किया जाएगा।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: