कांग्रेस से निलंबित हुए संजय झा, पायलट के पक्ष में किया था ट्वीट

झा पर पार्टी विरोधी गतिविधि में शामिल होने का आरोप

0

एक ओर राजस्थान में लगातार सियासी उहापोह की स्थिति बनी हुई है वहीं महाराष्ट्र कांग्रेस में  भी बगावत के सुर बुलंद होते दिख रहे हैं। महाराष्ट्र  कांग्रेस से निलंबित संजय झा ने ट्वीट कर पार्टी के नेतृत्व पर सवाल उठाए हैं। पार्टी  से निलंबित किए जाने के बाद संजय ने ट्वीट में लिखा,मेरी निष्ठा कांग्रेस की विचारधारा के प्रति है। मेरी निष्ठा किसी व्यक्ति या परिवार से नहीं है। मैं कांग्रेस में गांधी-नेहरूवादी आदर्शवादी (कांग्रेस के भीतर लुप्त होती नस्ल) बना हुआ हूं। मैं उन मुद्दों को उठाता रहूंगा, जो मेरी पार्टी के पुनरुत्थान के लिए मूलभूत हैं। लड़ाई अभी शुरू हुई है।’

इससे पहले संजय झा ने राजस्थान के सियासी ड्रामे के बीच पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट की वकालत की थी। एक अन्य ट्वीट में संजय झा ने लिखा था कि पहले ज्योतिरादित्य सिंधिया, अब सचिन पायलट, अगला कौन? गौरतलब है कि इसी के बाद संजय झा को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था। हालांकि उन्होने यह भी कहा कहा था कि तीन बार सीएम रह चुके अशोक गहलोत को बड़ी जिम्मेदारी दी जाए। गहलोत को ऐसे राज्‍यों की जिम्‍मेदारी सौंपनी चाहिए, जहां कांग्रेस कमजोर है। राजस्‍थान प्रदेश कांग्रेस के लिए नया अध्यक्ष नियुक्त करना चाहिए।

वहीं पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाए जाने के बाद झा ने अपने निलंबन को लेकर शीर्ष नेतृत्व से सवाल पूछे थे उन्होने कहा था कि उन्हे बताया जाए कि उन्होने ऐसी कौन सी पार्टी विरोधी गतिविधि की है जिसके चलते उन्हे निलंबित कर दिया गया। इस पर बयान देते हुए  महाराष्ट्र कांग्रेस प्रमुख बाला साहेब थोराट ने कहा है कि झा पर पार्टी विरोधी गतिविधियों और अनुशासन तोड़ने के कारण कार्रवाई

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: