धोखेबाज़ चीन की कमर तोड़ने के लिए ई-कैंपेन जोरों पर

भारत-तिब्बत सहयोग मंच द्वारा चलाया जा रहा है ई-कैंपेन

0

नोएडा: भगवान भोलेनाथ के निवास स्थान कैलाश मानसरोवर की मुक्ति, तिब्बत की आजादी और धोखेबाज़ चीन की विस्तारवादी नीतियों के खिलाफ मक्कार चीन की आर्थिक रूप से कमर तोड़ने, पर्यावरण की रक्षा एवं हिमालय की सुरक्षा और चीनी ऐप के साथ चीनी सामानों के बहिष्कार समेत कुछ अन्य मुद्दों को लेकर भारत-तिब्बत सहयोग मंच (Indo-Tibet Cooperation Forum) द्वारा चलाया जा रहा ई-कैंपेन (e-campaign) बहुत ही तेज गति से आगे बढ़ रहा है। इस अभियान के तहत लोगों से ई- संकल्प पत्र भरवा कर सबमिट करवाया जा रहा है।

सबसे गर्व की बात ये है कि इस अभियान को समाज के विशिष्ट लोगों का बहुत व्यापक स्तर पर समर्थन मिल रहा है।  दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष श्री आदेश गुप्ता, दिल्ली प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष एवं लक्ष्मी नगर विधानसभा क्षेत्र से विधायक श्री अभय वर्मा, प्रसिद्ध उद्योगपति एवं हरियाणा-पंजाब CAIT के अध्यक्ष श्री हरकेश मित्तल , लक्ष्मी नगर से पार्षद श्री संतोष पाल, किशन कुंज से पार्षद सुश्री हिमांशी पांडेय, मेजर भूपेंद्र सिंह, नगर वार्ड से श्रीमती श्वेता सैनी, पानीपत के वरिष्ठ समाजसेवी श्री रमेश नागर सहित अनेक लोगों ने ई संकल्प अभियान को दिल से समर्थन दिया है।
चीन को घुटने टेकने पर मजबूर करना हमारा लक्ष्य- पंकज गोयल

भारत-तिब्बत सहयोग मंच के राष्ट्रीय महामंत्री श्री पंकज गोयल ने कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक एवं मंच के मार्गदर्शक माननीय इंद्रेश कुमार की देख-रेख में संचालित इस ई कम्पेन अभियान को पूरे देश में बहुत व्यापक स्तर पर समर्थन मिल रहा है।

मंच के कार्यकर्ता पूरे देश में लोगों के पास जाकर अभियान के बारे में बता रहे हैं और ई-संकल्प पत्र भरवा रहे हैं। श्री गोयल ने कहा कि कार्यकर्ताओं के परिश्रम से हम लोग इस अभियान से काफी संख्या में राजनेताओं, सामजसेवियों, बुद्धिजीवियों, डॉक्टरों, वकीलों, व्यवसायियों एवं अन्य विशिष्ट लोगों को जोड़ने में कामयाब हुए हैं।

उन्होंने कहा कि इस अभियान को लेकर मंच के कार्यकर्ताओं में जिस प्रकार जोश औऱ उत्साह देखने को मिल रहा है, उससे निश्चित रूप से धोखेबाज़ चीन को घुटने के बल रेंगने के लिए मजबूर होना पड़ेगा और यही हमारा लक्ष्य भी है। निश्चित रूप से ऐसा होकर रहेगा।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: