अन्याय के खिलाफ आवाज उठाना कोई अपराध नहीं, बल्कि कर्तव्य: राहुल

 पूर्व कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि अन्याय के खिलाफ आवाज उठाना कोई अपराध नहीं, बल्कि कर्तव्य है। यह लड़ाई तब तक जारी रहेगी जब तक कृषि कानूनों को वापस नहीं लिया जाएगा।

0

नई दिल्ली:  पूर्व कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि अन्याय के खिलाफ आवाज उठाना कोई अपराध नहीं, बल्कि कर्तव्य है। यह लड़ाई तब तक जारी रहेगी जब तक कृषि कानूनों को वापस नहीं लिया जाएगा।

राहुल गांधी ने ट्वीट किया, अन्याय के खिलाफ आवाज उठाना कोई अपराध नहीं बल्कि कर्तव्य है। मोदी सरकार की पुलिस द्वारा दर्ज की गई एफआईआर किसानों के मजबूत इरादों को नहीं डगमगा पाएगी। यह लड़ाई तब तक जारी रहेगी, जब तक कि कृषि कानून वापस नहीं लिए जाते।

राहुल ने ट्वीट के साथ एक अखबार की कटिंग शेयर की, जिसमें कहा गया कि पुलिस ने हजारों प्रदर्शनकारी किसानों के खिलाफ पुलिस बैरिकेड हटाने के आरोप में मामला दर्ज किया है।

इससे पहले दिन में, कांग्रेस नेता ने एक तस्वीर शेयर की थी, जिसमें एक पुलिसकर्मी किसान पर लाठी भंजाते हुए दिखाई दे रहा है। तस्वीर को शेयर करते कांग्रेस नेता ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा।

उन्होंने कहा, यह बहुत दुखद तस्वीर है। हमारा नारा जय जवान, जय किसान का था, लेकिन मोदी सरकार के अहंकार ने उन्हें एक-दूसरे के खिलाफ खड़ा कर दिया। यह बहुत खतरनाक है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: