Purvanchal Express Way: पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से बलिया को जोड़ने का फैसला, तैयारी शुरु

0

Purvanchal Express Way: जंग-ए-आजादी की पहली लड़ाई (1857) और बाद के दिनों में भी स्वतंत्रता संग्राम में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेने वाले मंगल पांडेय और चित्तू पांडेय की धरती बलिया (Baliya) भी पूर्वांचल एक्सप्रेसवे (Purvanchal Express Way) से जुड़ेगी। 22 किमी की लंबाई वाली यह सड़क चार लेन की होगी। इसके निर्माण में करीब 1500 करोड़ रुपये की लागत आएगी। एलाइनमेंट का काम पूरा हो चुका है। डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाने की प्रक्रिया जारी है। यह सड़क गाजीपुर के कासिमाबाद स्थित पूर्वांचल एक्सप्रेसवे (Purvanchal Express Way) से शुरू होकर बलिया तक जाएगी।

purvanchal express way

Purvanchal Express Way: एक्प्रेस वे बन जाने से बलिया से दिल्ली, लखनऊ की दूरी आधी

पूर्वांचल एक्सप्रेसवे बन जाने से इसके के जरिए बलिया के लोगों के लिए देश की राजधानी दिल्ली और प्रदेश की राजधानी लखनऊ जाने का समय आधा हो जाएगा। समय के साथ संसाधन भी बचेगा। इसी तरह काशी और अन्य प्रमुख शहरों को जाने में भी समय और संसाधन बचेगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले ही कह चुके हैं कि सभी एक्सप्रेसवे के किनारे जरूरत के अनुसार ओद्योगिक गलियारे और जरूरत के अनुसार नई टाऊनशिप बसाई जाएगी। इस सबका लाभ भी बलिया को भी मिलेगा।

ये भी पढ़ें- Tokyo Olympics Wrestling 2021: पहलवान Ravi Dahiya की ओलंपिक में शानदार जीत, देश को दिलाया सिल्वर मेडल

Purvanchal Express Way: बलिया एक्सप्रेस वे निर्माण की प्रक्रिया चल रही है

उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवेज औद्योगिक विकास प्राधिकरण(यूपीडा) के मीडिया प्रभारी दुर्गेश उपाध्याय कहते हैं, बलिया एक्सप्रेस वे निर्माण की प्रक्रिया चल रही है। यह पूर्वांचल एक्सप्रेसवे से निकल कर बलिया शहर तक जाएगी। एलाइनमेंट का काम पूरा हो चुका है। डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाने की प्रक्रिया जारी है।

Purvanchal Express Way:  5 एक्सप्रेस वे वाला देश का पहला राज्य उत्तर प्रदेश

गौरतलब हो कि यूपी देश का इकलौता राज्य है जहां एक साथ पांच एक्सप्रेस वे बन रहे हैं। 340 किमी लंबा पूर्वांचल एक्सप्रेस वे मुख्यमंत्री का ड्रीम प्रोजेक्ट है। इसका लगभग 95 फीसद काम पूरा हो चुका है। इस माह मुख्य कैरेज मार्ग पूरी तरह कंप्लीट हो जाएगा। सितंबर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसका लोकार्पण कर सकते हैं। दिसंबर 2021 तक 296 किमी लंबे बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे को पूरा करने का लक्ष्य है।

Purvanchal Express Way: मेरठ-प्रयागराज गंगा एक्सप्रेस वे का निर्माण जल्द होगा शुरु

मेरठ से प्रयागराज को जोड़ने वाली गंगा एक्सप्रेस वे के लिए 6000 हेक्टेयर से अधिक ( 88 फीसद) भूमि खरीद ली गई है। जल्द ही इसके निर्माण का काम भी शुरू होगा। गंगा एक्सप्रेसवे के निर्माण की शुरूआत भी इस वर्ष होनी है। इस एस्क्प्रेसवे के निर्माण के लिए जमीन अधिग्रहण का कार्य करीब-करीब पूरा हो गया है। 594 किलोमीटर लंबा गंगा एक्सप्रेस वे मेरठ से शुरू होकर हापुड़, बुलन्दशहर, अमरोहा, संभल, बदायूं, शाहजहांपुर, हरदोई, उन्नाव, रायबरेली, प्रतापगढ़ से गुजरते हुए प्रयागराज पर खत्म होगा। यह देश का सबसे लंबा एक्सप्रेस वे होगा।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.