प्रतापगढ़: फरार चल रहे सभापति यादव पर प्रशासन ने बढ़ाया इनाम, तलाश जारी

न्यायालय द्वारा जारी किया जा चुका है अरेस्ट वारंट।

0
प्रतापगढ़: सरकारी जमीन और अधिक दाम की सम्पत्ति को कौड़ी के मोल खरीद करने और क्षेत्र में अपराधिक मामलों को बढ़ावा देने के लिए प्रशासन ने जनप्रतिनिधि के पति सभापति यादव पर कानूनी कार्रवाई को बढ़ावा दिया जा रहा है। जिसके तहत उन पर घोषित किए गए इनाम को 25 हज़ार से बढ़ा कर 1 लाख़ कर दिया गया है। दोनों अभियुक्तों सभापति यादव और सुभाष यादव के लिए न्यायालय द्वारा हाजिरी अपेक्षा करने वाली उद्घोषणा (धारा 82 Cr.P.C) का आदेश निर्गत किया गया।

इससे पहले 11.09.2020 को न्यायालय द्वारा अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए वारंट जारी किया गया है।अभियुक्तों के खिलाफ बीते अगस्त महीने में जिले के थाना पट्टी में प्रयागराज पुलिस महानिरीक्षक द्वारा पुरस्कार की धनराशि को 25-25 हजार रू0 से बढ़ाकर 50-50 हजार रू0 किया गया था। इसके बाद अपर पुलिस महानिदेशक, प्रयागराज जोन द्वारा इस पुरस्कार की धनराशि को 50-50 हजार रू0 से बढ़ाकर 01-01 लाख रू0 कर दिया गया था।

इसके बाद अभियुक्तों के खिलाफ न्यायालय द्वारा वारंट जारी किया गया था।जिसके बाद भी इस आदेश का पालन न हो सका। जिससे खिन्न होकर माननीय न्यायालय द्वारा अभियुक्तगणों के सम्बन्ध में हाजिरी की अपेक्षा करने वाली उद्घोषणा (धारा 82 Cr.P.C) का आदेश निर्गत किया गया है।

बता दें कि आरोपियों पर पंजीकृत मु0अ0सं0 195/20 धारा 147, 148, 149, 307, 332, 341, 353, 504, 506, 188, 269 भादंवि, 7 सीएलए एक्ट, 51ए आपदा प्रबन्धन अधिनियम, 22(1/2/3) महामारी संशोधन अधिनियम(2020) व 102 सीआरपीसी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: