Parivartan Sandesh Railly: लाल टोपी ही भाजपा को सत्ता से बाहर करेगी- अखिलेश यादव

0

Parivartan Sandesh Railly: मेरठ में आयोजित परिवर्तन संदेश रैली ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भाजपा पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि लाल टोपी ही भाजपा को सत्ता से बाहर करेगी। उन्होंने इस रैली में नया नारा देते हुए कहा कि किसानों का इंकलाब होगा, बाइस में बदलाव होगा।

Parivartan Sandesh Railly

Parivartan Sandesh Railly: यह रैली नहीं भाजपा सरकार को बाहर करने के लिए जनसत्ता का सैलाब है-  अखिलेश

इस रैली के जरिये पहली बार समाजवादी पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल एक साथ मंच पर आए। सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव और जयंत चौधरी दोनों नेता एक ही हेलिकॉप्टर से मेरठ के दबथुआ पहुंचे थे। इस मौके पर रैली को संबोधित करते हुए सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने भाजपा पर जमकर निशाना साधते हुए कहा कि ये परिवर्तन रैली ना केवल रैली है बल्कि भाजपा सरकार को प्रदेश से बाहर करने के लिए जनसत्ता का सैलाब है।

Parivartan Sandesh Railly: सपा की सरकार बनी तो 1 करोड़ युवाओं को नौकरी- अखिलेश

उन्होंने कहा कि उनकी सरकार बनी तो किसानों की सम्मान निधि योजना 6 हजार से बढ़ाकर 12 हजार रुपए कर दी जाएगी। उन्होंने गन्ना और आलू किसानों को लागत से डेढ़ गुना दाम देना का वादा किया। साथ ही, एक करोड़ युवकों को नौकरी देने का वादा किया। अखिलेश यादव ने वृद्धावस्था पेंशन की राशि को तीन गुणा बढ़ाने का वादा किया।

ये भी पढ़ें- Police attacked in Meerut: मेरठ में पुलिस पर हमला, 7 गिरफ्तार, 25 के खिलाफ मुकदमा दर्ज

इस अवसर पर राष्ट्रीय लोकदल के प्रमुख चौधरी जयन्त सिंह ने रैली में बीजेपी सरकार पर तंज कसते हुए कहा, डबल इंजन की सरकार का देखा आपने क्या हाल है, बिजनौर में विधायक ने नारियल फोड़ा, सड़क टूट गई। इसके साथ ही उन्होंने रैली में कहा कि आज इसी मंच से वो गठबंधन का ऐलान करते हैं। यह डबल इंजन की सरकार आएगी और प्रदेश को नए आयाम तक ले जाएगी।

Parivartan Sandesh Railly: भाजपा के कुछ नेता घोड़े से अब खच्चर बना दिये गए- जयंत सिंह

चौधरी जयन्त सिंह ने किसानों का मुद्दा उठाते हुए कहा कि एक साथ किसानों पर वार हुआ, किसानों का अपमान हुआ, लेकिन भाजपा के किसी भी नेता की एक शब्द बोलने की हिम्मत नहीं हुई। परिवर्तन संदेश रैली को संबोधित करते हुए जयंत चौधरी ने कहा, भाजपा में कुछ नेता जब शामिल हुए तब घोड़े थे, और अब खच्चर बना दिया गए। योगी औरंगजेब पर बात शुरू करते हैं और अंत में पलायन पर आ जाते हैं। पेपर दिला नहीं पाते, मजबूर होकर नौजवान दूसरे प्रदेश जाकर नौकरी ढूंढते हैं, योगी जी को ये पलायन नहीं दिखता।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.