oxygen plant in pratapgarh : प्रतापगढ़ के 33 निजि अस्पतालों में लगेंगे ऑक्सीजन पलांट

0

Oxygen plant in pratapgarh : कोरोना संक्रमण (coronavirus) की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की भारी कमी के चलते बहुत से लोगों को अपनी जान गवानी पड़ गई थी। ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए और कोरोना संक्रमण (Covid-19) की तीसरी लहर से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग (health Department) जोरों पर तैयारियां कर रहा है। इसी के चलते अब सरकारी अस्पतालों के अलावा प्रतापगढ़ जिले के 33 प्राइवेट अस्पतालों में भी ऑक्सीजन जनेरेशन प्लांट (Oxygen Generation Plant) लगाए जाएंगे।

कोरोना से निपटने के लिए 33 अस्पतालों (Oxygen plant in pratapgarh) लगेगें ऑक्सीजन प्लांट

कोरोना की तीसरी (Corona Third Wave) लहर से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग इस बार पहले से हर स्तर पर अपनी तैयारियां पूरी कर ले रहा है। शासन से ऑक्सीजन प्लांट (Oxygen Generation Plant) लगाने के आदेश के बाद मुख्य चिकित्साधिकारी (chief medical officer) ने जिले के 33 निजि अस्पताल (private hospital) के संचालकों को पत्र भेज कर ऑक्सीजन जेनेरेशन प्लांट (Oxygen Generation Plant) लगाने के आदेश दे दिए हैं। सीएमओ (CMO) ने सौ बेड से कम के प्राइवेट अस्पतालों को पहले से ही ऑक्सीजन सिलेंडर (oxygen cylinder) मंगवाकर रख लें जिससे की जरूरत पड़ने पर समय से मरीजों को ऑक्सीजन मिल सके है और कोरोना की तीसरी लहर से लड़ा जा सके।

oxygen plant in pratapgarh

डिप्टी सीएमओ (Deputy CMO) एसके सिंह ने बताया कि 33 निजी अस्पतालों को चिन्हिंत करके ऑक्सीजन प्लांट (Oxygen Generation Plant)  लगाने के लिए माइक्रो प्लान (micro plan) तैयार कर लिया गया है। जिला प्रशासन (district administration) से प्राइवेट अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए आवश्यक सहयोग देने की मांग की गई है।

ये भी पढ़ें-

Monsoon Attack : उत्तर भारत में आकाशीय बिजली का कहर, अलग-अलग जगहों पर 40 लोगों की हुई मौत

जैसा की आप सब जानते हैं कि करोना संक्रमण (Covid-19) की दूसरी लहर में अस्पतालों में ऑक्सीजन और बेड की भारी कमी का सामना करना पड़ा था। संक्रमण (Corornavirus) बढ़ने पर अस्पतालों में बेड मिलना मुश्किल हो गया था। समय पर इलाज न मिलने और ऑक्सीजन कमी की वजह से कई लोगों की मौत हुई थी। स्वास्थ्य विशेषज्ञों (health experts) ने आब तीसरी लहर (third wave) की आशंका जताई है जिसको देखते हुए शासन सतर्क हो गया है। शासन ने स्वास्थ्य विभाग (health Department) को तीसरी लहर से निपटने के लिए तैयारियां पूरी करने के निर्देश दिया है।

कोरोना संक्रमण के बारे में लेटेस्ट अपडेट के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.