आज फाइनल परीक्षा मामले पर SC सुनाएगा फैसला

UGC ने दिया था 30 सितंबर तक फाइनल परीक्षा संपन्न कराने का आदेश

0

नई दिल्ली:  कोरोना वायरस (Corona Virus) के बढ़ते संक्रमण (corona spread) को देखते हुए इस साल कॉलेजों (Collage) और विश्वविद्यालयों (University) में होने वाले फाइनल इयर (final year) की परिक्षाओं (exam) पर संशय बरकरार है। इस मामले में बीते दिनों सुप्रीम कोर्ट (supreme court of india) में जस्टिस अशोक भूषण की बेंच ने सुनवाई भी की थी, और फैसला सुरक्षित रख लिया था। आज इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट फैसला सुनाएगा।

आपको बता दें पिछली सुनवाई में UGC की तरफ से सॉलिसिटर जेनरल तुषार मेहता और पश्चिम बंगाल, दिल्ली और महाराष्ट्र की ओर से अन्य वकीलों ने अपना पक्ष रखा था।

बीते दिनों हुई सुनवाई में SC में महाराष्ट्र की ओर से सीनियर एडवोकेट अरविंद दातर ने कहा था कि महाराष्ट्र कोरोना संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित है, ऐसे में UGC परिक्षा कराने के लिए विश्वविद्यालयों को मजबूर नहीं कर सकता। सीनियर एडवोकेट अरविंद दातर ने ये भी कहा था कि जब IIT बिना फाइनल एग्जाम्स के डिग्रियां दे सकता तो हम क्यों नहीं।

दरअसल बीते 6 जुलाई को UGC ने अपनी संशोधित गाइडलाइंस में देश के सभी विश्वविद्यालयों से कहा था कि वो हर हाल में फाइनल ईयर की परीक्षाएं 30 सितंबर से पहले करा लें।

वहीं दूसरी ओर कोरोना संक्रमण को देखते हुए महाराष्ट्र, दिल्ली, पंश्चिम बंगाल समेत अन्य राज्यों के छात्रों ने इस वर्ष फाइनल ईयर की परिक्षाओं को रद्द करने की मांग की है। छात्रा को कहना है कि पहले के प्रदर्शन के आधार पर ही उनका रिजल्ट जारी किया जाए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: