हत्या का आरोपी 23 साल बाद हुआ गिरफ्तार, पुलिस ने कैसे फैलाया जाल ?

शाहजहांपुर के रेलवे कॉलोनी का रहने वाले केशव शुक्ला को 1996 में बबलू पांडे की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। 1997 में उसे एक अदालत ने जमानत दे दी और तब से ही वह लापता था।

0

मुरादाबाद: उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। हत्या का आरोपी 23 साल के बाद पकड़ में आया। 45 साल के केशव कुमार शुक्ला को जमानत मिलने के 23 साल बाद मुरादाबाद से गिरफ्तार किया गया है। वह अपनी पहचान बदलकर मुरादाबाद के एक होटल में काम कर रहा था।

शाहजहांपुर के रेलवे कॉलोनी का रहने वाले केशव शुक्ला को 1996 में बबलू पांडे की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। 1997 में उसे एक अदालत ने जमानत दे दी और तब से ही वह लापता था। पिछले 23 सालों में अदालत ने कई समन और वारंट जारी किए लेकिन शुक्ला गायब ही रहा। हाल ही में अदालत के आदेश पर पुलिस ने खोज शुरू की।

ये भी पढ़ें- सैनिटाइजर उत्पादन में यूपी ने रचा इतिहास, कई कंपनियों को मिला लाइसेंस

मंडी चौकी के प्रभारी सब इंस्पेक्टर गुड्डू सिंह को शुक्ला को गिरफ्तार कर अदालत के सामने पेश करने की जिम्मेदारी दी गई थी। इसके बाद शुक्ला को गिरफ्तार करने के लिए मुरादाबाद और शाहजहांपुर की पुलिस ने संयुक्त अभियान चलाया।

शाहजहांपुर के एसएसपी एस.आनंद ने कहा, शुक्ला के खिलाफ 1996 में हत्या का मामला दर्ज किया गया था, उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। लेकिन वह एक साल बाद जमानत पर बाहर आया और उसके बाद कई वारंट जारी होने पर भी कोर्ट में पेश नहीं हुआ। अब हमने उसे मुरादाबाद के एक होटल में पकड़ा, जहां वह नकली नाम से काम कर रहा था और उसे शनिवार को जेल भेज दिया गया।

अन्य खबरों के लिए प्रताप किरण को गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: