अशोक गहलोत पर बसपा सुप्रीमो ने साधा निशाना

ट्वीट कर की राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग

0

राजस्थान में चल रहे सियासी संकट में एक और ट्विस्ट आ गया है। अशोक गहलोत सरकार की तरफ से एक ऑडियो टेप जारी किया है। इस ऑडियो टैप कांड को लेकर सियासत गरमाने लगी है। भारतीय जनता पार्टी लगातार अशोक गहलोत सरकार पर निशाना साध रही है वहीं अब बहुजन समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने कांग्रेस को आड़े हाथ लिया है। मायावती ने ट्वीट कर कहा कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने फोन टैप कराकर असंवैधानिक काम किया है। इतना ही नहीं उन्होंने राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री ने एक के बाद एक दो ट्वीट किए औऱ राजस्थान में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग कर दी।

मायावती ने लिखा, ‘जैसाकि विदित है कि राजस्थान के मुख्यमंत्री गहलोत ने पहले दल-बदल कानून का खुला उल्लंघन व बीएसपी के साथ लगातार दूसरी बार दगाबाजी करके पार्टी के विधायकों को कांग्रेस में शामिल कराया और अब जग-जाहिर तौर पर फोन टैप कराके इन्होंने एक और गैर-कानूनी व असंवैधानिक काम किया है।’

बसपा सुप्रीमो ने राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग करते हुए कहा कि राजस्थान में लगातार जारी राजनीतिक गतिरोध, आपसी उठा-पठक व सरकारी अस्थिरता के हालात का वहाँ के राज्यपाल को प्रभावी संज्ञान लेकर वहाँ राज्य में राष्ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश करनी चाहिए, ताकि राज्य में लोकतंत्र की और ज्यादा दुर्दशा न हो।

दरअसल जो ऑडियो टेप वायरल हो रहा है उसमें कथित तौर पर कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक भंवर लाल शर्मा व भाजपा के एक नेता संजय जैन की आवाज होने का दावा किया जा रहा है। कांग्रेस प्रवक्ता सुरजेवाला ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा  कि इसमें साफ तौर से कहा जा रहा है कि सरकार गिरानी है। इस ऑडियो में भंवरलाल कह रहे हैं अमाउंट की बात हो गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: