Mayawati on Keshav Prasad Maurya Tweet: हिंदू-मुस्लिम बीजेपी का आखिरी हथकंडा, इससे सावधान रहे जनता- मायावती

0

Mayawati on Keshav Prasad Maurya Tweet: चुनाव का बिगुज बजते ही सियासी पार्टियों का एक दूसरे पर जवाबी हमला और तंज कसना कोई नई बात नहीं है। ऐसा ही राजनीति संग्राम यूपी विधानसभा चुनाव (UP assembly elections) के दौरान देखने को मिल रहा है।

ये भी पढ़ें- CBSE Board Exam 2021: बोर्ड परीक्षा में पूछा गया विवादित प्रश्न, सीबीएसई ने स्वीकार की भूल, कही कार्रवाई की बात

बहुजन समाज पार्टी (BSP) अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने मथुरा में विवादित स्थल पर मंदिर निर्माण की तैयारी संबंधी उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (Keshav P{rasad Maurya) के ट्वीट को राज्य के आगामी विधानसभा चुनाव में बीजेपी की पराजय की धारणा को पुख्ता करने वाला करार दिया है। इसके साथ ही जनता से भाजपा के ‘आखिरी हथकंडे’ के प्रति आगाह किया।

Mayawati on Keshav Prasad Maurya Tweet

Mayawati on Keshav Prasad Maurya Tweet: उपमुख्यमंत्री के ट्वीट को मायावती ने बीजेपी की हार की धारणा को पुख्ता करने वाला बताया

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री ने ट्वीट में कहा, ”यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य द्वारा विधानसभा चुनाव के नजदीक दिया गया बयान कि अयोध्या व काशी में मन्दिर निर्माण जारी है, अब मथुरा की तैयारी है, यह भाजपा के हार की आम धारणा को पुख्ता करता है.” मायावती ने जनता को भाजपा की कथित सांप्रदायिक राजनीति से सावधान रहने की हिदायत देते हुए कहा, ”इनके इस आखिरी हथकंडे से अर्थात् हिन्दू-मुस्लिम राजनीति से भी जनता सावधान रहे।”

Mayawati on Keshav Prasad Maurya Tweet: किसी को भी मथुरा में माहौल खराब करने की इजाजत नहीं – डीएम, मथुरा

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने बुधवार को ट्वीट किया था “अयोध्या, काशी भव्य मंदिर निर्माण जारी है, मथुरा की तैयारी है। जय श्रीराम, जय शिव शंभू, जय श्री राधे कृष्ण.” मथुरा भगवान श्रीकृष्ण का जन्म स्थान है। उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर उपमुख्यमंत्री के इस बयान के राजनीतिक निहितार्थ निकाले जा रहे हैं।

गौरतलब है कि मथुरा जिला प्रशासन ने भगवान कृष्ण की ‘वास्तविक जन्म भूमि’ पर उनकी प्रतिमा स्थापित करने की अखिल भारत हिंदू महासभा की घोषणा के मद्देनजर 28 नवंबर को धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू कर दी है। महासभा का दावा है, ”भगवान श्री कृष्ण का जन्मस्थान मथुरा के प्रमुख मंदिर के बगल में मौजूद मस्जिद के अंदर है.” मथुरा के जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल ने कहा कि किसी को भी मथुरा में माहौल खराब करने की इजाजत नहीं दी जाएगी।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.