Mamta with Akhilesh in UP: उत्तर प्रदेश में भी होगी बंगाल वाली राजनीति?

0

Mamta with Akhilesh in UP: उत्तर प्रदेश विधानसभा (Uttar Pradesh Assembly Elections)  चुनाव में जहां सभी पार्टियां जोरों शोरों से प्रचार प्रसार में लगी हैं, वहीं  सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को बंगाल की मुख्यमंत्री(C.M) ममता बनर्जी का साथ मिलता हुआ नजर आ रहा हैं, बता दें कि आगामी चुनाव के लिए अखिलेश यादव ने ममता को आमंत्रित किया हैं वहीं आज वह अखिलेश यादव के साथ लखनऊ में बैठक करेंगी और कल दोनों की साथ में वर्चुवल रैली की भी खबरें सामने आ रही हैं।

ये भी पढ़ें- Amit Shah On Owaisi In Rajya Sabha: असदुद्दीन ओवैसी पर हुए हमले पर राज्यसभा में अमित शाह ने दिया बयान
Mamta with Akhilesh in UP
अखिलेश को मिला ममता बनर्जी का साथ

Mamta with Akhilesh in UP: सपा को मिला ममता, एनसीपी, आरजेडी का साथ

पहले ये भी कयास लगाए जा रहे थे, कि टीएमसी भी उत्तरप्रदेश चुनाव में उतर सकती हैं, पर ममता बनर्जी ने इस बात से साफ़ इंकार किया हैं, दीदी के साथ के पहले समाजवादी पार्टी को एनसीपी और आरजेडी का साथ भी मिल चुका हैं। ममता बनर्जी आज शाम तक लखनऊ पहुंच जाएंगी।

Mamta with Akhilesh in UP: सपा की चुनावी रैलियों में अखिलेश संग ममता दीदी

बता दें कि बंगाल चुनाव के समय भी अखिलेश यादव ने ममता बनर्जी का पूरा सपोर्ट किया था। वहीं दीदी भी अब खुद अखिलेश यादव की चुनावी रैलियों में उनका साथ देंगी। वैसे ममता बनर्जी का उत्तर प्रदेश में कोई भी जनाधार नहीं हैं, लेकिन सपा प्रमुख अखिलेश यादव को ममता दीदी का कितना सहयोग मिलेगा, ये देखना काफी दिलचस्प होगा|

Mamta with Akhilesh in UP: किसके साथ, कितनों का साथ

बात करें अगर बीजेपी की तो उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री योगी के साथ-साथ देश के प्रधानमंत्री मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ, केंद्रीय मंत्री अमित शाह और स्मृति ईरानी जैसे तमाम बड़े नेता चुनावी प्रचार प्रसार में शमिल हैं। वहीं अखिलेश यादव को भी अब अन्य पार्टियों का साथ मिलता नजर आ रहा हैं।

Mamta with Akhilesh in UP: किसका ‘खदेड़ा’ होगा यूपी से ?

बंगाल चुनाव के पहले ममता दीदी का खेला होइबे नारा खूब जोरों शोरों से चुनावी प्रचार प्रसार में गूंज रहा था|  वैसा ही हाल कुछ यूपी चुनाव में देखने को मिल रहा हैं। कुछ दिनों पहले समाजवादी पार्टी की तरफ से एक गाना रिलीज़ किया गया था जिसके बोल बंगाल चुनाव के नारे से मिलता जुलता हैं, इस गाने के माध्यम से सपा, बीजेपी को उत्तर प्रदेश से बाहर खदेड़ने की बात कर रही हैं। यहां तक कि अब ये गाना सपा के चुनाव प्रचार प्रसार में भी काफी दिखाई सुनाई दे रहा हैं।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.