महाराष्ट्र: भंडारा जिला अस्पताल में आग, 10 नवजात बच्चों की मौत

महाराष्ट्र के भंडारा जिला अस्पताल में उस वक्त अफरा-तफरी मच गई जब आग लगने से 10 नवजात बच्चों की जिंदा जलने से मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक इन बच्चों की उम्र 1 महीने से 3 महीने के बीच है।

0

महाराष्ट्र के भंडारा जिला अस्पताल में उस वक्त अफरा-तफरी मच गई जब आग लगने से 10 नवजात बच्चों की जिंदा जलने से मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक इन बच्चों की उम्र 1 महीने से 3 महीने के बीच है। आग लगने की मुख्य वजह उस आईसीयू को बताया जा रहा है जो बीमार नवजातों के लिए बनाया गया था। अस्पताल में रात 2 बजे आग लगने पर पूरे अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई। महाराष्‍ट्र के भंडारा जिला अस्‍पताल में रात 2 बजे लगी आग में 10 नवजात बच्‍चों की मौत

जानकारी के मुताबिक इस आग के हादसे से कुल 7 बच्चों को अबतक बचाया जा चुका है. हालांकि आग किन कारणों से इस बात की अबतक पुष्टि नहीं हो सकी है, कुछ लोगों का कहना है कि शॉर्ट-सर्किट के कारण यह आग लगी। जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉक्टर प्रमोद खंडाते के मुताबिक अस्तपताल में नवजात बीमार बच्चों के इलाज के लिए बनाए गए आईसीय (SNUC) में रात के 2 बजे यह आग लगी।

उन्होंने बताया कि इस हादसे में 10 नवजात बच्चों की झुलसने से मौत हो गई. हालांकि अन्य 7 बच्चों को सुरक्षित बचा लिया गया है। वहीं खबरों की माने तो अस्पताल में शॉर्ट-सर्किट के कारण देर रात आग लगी। इस दौरान अस्पताल के वार्ड में कुल 17 बच्चे थे।

वार्ड से धुआ निकलते देख अस्पताल प्रशासन को अलर्ट किया गया। हालांकि जब तक अस्पताल कर्मचारी अंदर पहुंचते 10 बच्चों की मौत हो चुकी है। हालांकि इसके बाद अन्य 7 बच्चों को सुरक्षित बचाकर बाहर निकाल लिया गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.