LIC IPO Announcement: LIC IPO पर जारी करने जा रही है प्राइस बैंड, ₹902-949 प्रति स्टॉक रहेगा प्राइस बैंड

LIC IPO Announcement: प्रत्येक लॉट के लिए बिड लॉट का साइज 15 होगा

0

LIC IPO Announcement: अघर आप भी देश की सबसे बड़ी बीमा कंपनी भारतीय जीवन बीमा निगम यानी LIC में पैसे निवेश करना चाहते हैं तो आपके लिए अच्छा मौका है। बता दें, भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) का इनिशियल पब्लिक आफरिंग यानी आईपीओ 4 मई को खोलने जा रहा है।

जो 9 मई, 2022 तक सब्सक्रिप्शन के लिए खुला रहेगा। इसके  लिए भारतीय जीवन बीमा निगम ने प्राइस बैंड भी जारी कर दिया गया है। प्राइस बैंड ₹902-949 प्रति स्टॉक रहेगा। इनिशियल पब्लिक आफरिंग यानी आईपीओ में जो निवेशक निवेश करना चाहते हैं वह 2 मई तक बोली लगा सकते हैं।

LIC IPO Announcement
LIC IPO Announcement

ये भी पढ़ें- Azam Khan Bail Postponed: सपा नेता आजम खान की बढ़ी मुश्किलें, सुप्रीम कोर्ट में जमानत याचिका पर सुनवाई टली

LIC IPO Announcement: खुदरा निवेशकों और कर्मचारियों को मिलेगी 45 रुपये की छूट

LIC IPO Announcement
LIC IPO Announcement

सूत्रों के मुताबिक एक लॉट में निवेशकों को 15 शेयर्स मिलेंगे। इसके अलावा भारतीय जीवन बीमा निगम ने अपने पॉलिसीधारकों को 60 रुपये की छूट देने की घोषणा भी की है। इसके अलवा अन्य खुदरा निवेशकों और कर्मचारियों को 45 रुपये की छूट मिलेगी। भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) अपने इनिशियल पब्लिक आफरिंग यानी आईपीओ के जरिए 22.13 करोड़ शेयर्स को जारी करेगी।

जिसमें सीधे ग्राहक पैसा लगा सकते हैं। शुरूआत में सरकार करीब 3.5 फीसदी हिस्सेदारी बेचेगी। भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) के इनिशियल पब्लिक आफरिंग यानी आईपीओ के जरिए सरकार करीब 21,000 करोड़ रुपये जुटाने की योजना बना रही है।

LIC IPO Announcement: कम किया गया आईपीओ 

आपको बता दें, बीते फरवरी के महीने में सरकार ने भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (SEBI) के पास एक दस्तावेज जमा कराया था। जिसमें भारतीय जीवन बीमा निगम (LIC) में सरकार ने 5 प्रतिशत की हिस्सेदारी 31.6 करोड़ शेयर बेचने की बात कही गई थी। बीते करीब 2 महीनों से जारी रूस युक्रेन युद्ध की वजह से जिस तरह से वश्व के बाजारों के साथ साथ भारत के बाजार में भी कई बार गिरावट देखी गई थी। उसका असर भारतीय जीवन बीमा निगम के इनिशियल पब्लिक आफरिंग यानी आईपीओ पर भी पड़ा है जिस वजह से पिछले हफ्ते ही सरकार ने निर्गम का आकार कम कर दिया था। सरकार ने निर्गम का आकार  3.5 प्रतिशत तक कम कर दिया था।

खबरों के साथ बने रहने के लिए प्रताप किरण को फेसबुक पर फॉलों करने के लिए यहां क्लिक करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.