जानिए ऐतिहासिक दृष्टि से आज का दिन क्यों है खास

11 सितंबर केवल तारीख मात्र ही नहीं बल्कि तमाम स्मृतियों का स्मरण चिन्ह है

0

आज से 127 साल पहले यानी 1893 में अमेरिका (America) के शिकागो (Chicago) में एक धर्म सम्मेलन हुआ था। यह पहला मौका था जब पश्चात जगत का सामना पूर्व के एक धर्म आचार्य के साथ हो रहा था । इस धर्म सम्मेलन में भारत का प्रतिनिधित्व स्वामी विवेकानंद (swami vivekananda) ने किया था । अपने भाषण में उन्होंने वहां उपस्थित लोगों को ब्रदर्स एंड सिस्टर्स (brothers and sisters) कह कर संबोधित किया । इस बहुचर्चित भाषण से भारत की छवि को नई ऊंचाई मिली ।

आज से 19 साल पहले 11 सितंबर 2001 को अमेरिका में मानव इतिहास का सबसे नृशंस आतंकी हमला हुआ था जिसे हम 9/11 के नाम से जानते हैं । इस हमले में 70 देशों के 3000 लोग मारे गए थे । इस हमले का मास्टरमाइंड था ओसामा बिन लादेन (Osama bin Laden)। वह अलकायदा का सरगना था । अमेरिका ने 2 मई 2011 के दिन लादेन को मार गिराया ।

1906 में आज के दिन ही महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) ने अफ्रीका में सत्याग्रह की शुरुआत की थी ।अफ्रीकी सरकार ने श्वेत अश्वेत लोगों पर आधारित एक नया कानून पारित किया था । इसी कानून का जोहांसबर्ग में 11 सितंबर के दिन विरोध हुआ । इस बैठक में गांधी जी ने विरोध के लिए अहिंसा और सत्य के मार्ग पर चलने की बात कही थी ।

11 सितंबर 1971 को मिस्र (Egypt)में संविधान को स्वीकार किया गया गया था । इसके अलावा आज के दिन ही 1951 में इंग्लिश चैनल को तैरकर पार करने वाली पहली महिला बनी थीं फ्लोरेंस चैडविक (Florence chadwick)। वह 16 घंटे और 19 मिनट में इंग्लैंड से फ्रांस पहुंच गईं थीं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: